DA Image
22 नवंबर, 2020|9:07|IST

अगली स्टोरी

अष्टमी पर दुर्गा नाग मंदिर पहुंचे फारूक अब्दुल्ला, जानिए जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम ने देवी से क्या मांगा

farooq abdullah dugra nag temple

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला शनिवार को दुर्गा अष्टमी और राम नवमी के मौके पर प्राचीन 'दुर्गा नाग' मंदिर पहुंचे और देवी के सामने शीश झुकाया। इस सप्ताह 84 वर्ष के हुए नेशनल कांफ्रेंस के नेता ने शांति और मानवजाति के कल्याण की प्रार्थना की।

फारूक अब्दुल्ला डलगेट के पास स्थित मंदिर में उस समय पहुंचे जब कश्मीरी पंडित समुदाय पुजारी वहां हवन कर रहे थे। लोकसभा सांसद फारूक अब्दुल्ला ने वहां मौजूद पत्रकारों से बातचीत में कहा, ''यह हमारे हिंदू भाइयों और बहनों के लिए महत्वपूर्ण दिन है और इस मंदिर का बहुत महत्व है। मैं यहां मनाए जा रहे धार्मिक त्योहार पर लोगों को शुभकामनाएं देने आया हूं।'' 

फारूक अब्दुल्ला ने यह भी प्रार्थना की कि विस्थापित कश्मीरी पंडित जितनी जल्दी संभव हो अपने घरों में लौट आएं। परंपरागत पठानी सूट पहने फारूक अब्दुल्ला कोरोना महामारी को देखते हुए फेसगार्ड और मास्क भी लगाए नजर आए। उन्होंने लोगों से सार्वजनिक जगहों पर सोशल डिस्टेंशिंग के नियमों का पालन करने की अपील भी की। 

दुर्गा नाग मंदिर 700 साल से भी ज्यादा पुराना मंदिर माना जाता है। 2013 में मंदिर परिसर में शिवलिंग की स्थापना की गई थी। नवरात्र और खासकर अष्टमी के दिन बड़ी संख्या में श्रद्धालु यहां आकर पूजा पाठ करते हैं। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:jammu kashmir Farooq Abdullah prays for peace wellbeing of humankind at Dugra Nag temple