DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जम्मू-कश्मीर ADG ने कश्मीरियों से कहा- दबाकर मनाएं स्वतंत्रता दिवस

jammu kashmir adg  ani

जम्मू कश्मीर पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बुधवार को बताया कि जम्मू में लगाए गए प्रतिबंधों को पूरी तरह हटा लिया गया है लेकिन कश्मीर में कुछ स्थानों पर कुछ वक्त तक पाबंदियां लागू रहेंगी। साथ ही उन्होंने जोर दिया कि स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक मुनीर खान ने बताया कि श्रीनगर और घाटी में अन्य जिलों के विभिन्न हिस्सों में मामूली घटनाएं हुईं। इनसे स्थानीय रूप से ही निपटा गया। उन्होंने आगे कहा कि राज्य की पुलिस स्वतंत्रता दिवस की तैयारियों में जुटी हुई है। साथ ही हालात काबू में हैं, कश्मीरी लोग दबाके मनाए 15 अगस्त।  

उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि किसी को भी कोई बड़ी चोट नहीं आयी है। उन्होंने बताया कि कुछ ही लोगों को पैलेट की वजह से कुछ जख्म हुए हैं जिनका इलाज किया गया है।  खान ने कहा, ''हमारा सबसे बड़ा काम यह सुनिश्चित करना है कि कोई असैन्य हताहत ना हो। उन्होंने यहां पत्रकारों से कहा, ''जम्मू में लगाई गई पाबंदियां पूरी तरह हटा ली गई हैं और स्कूल तथा अन्य प्रतिष्ठान खुले हैं। कश्मीर में कुछ स्थानों पर कुछ समय तक ये जारी रहेंगी। हिरासत में लिए गए लोगों की संख्या के बारे में पूछने पर खान ने कहा कि वह अलग-अलग लोगों के बारे में बात नहीं करेंगे।

दिल्ली एयरपोर्ट से हिरासत में लिए गए शाह फैजल, वापस कश्मीर भेजे गए

उन्होंने कहा, ''इस तरह की कानून एवं व्यवस्था की स्थिति में, अलग-अलग तरह की हिरासत होती है...एहतियातन हिरासत का मकसद यह सुनिश्चित करना होता है कि उपद्रवी तत्व शांतिपूर्ण माहौल ना बिगाड़ें..इसलिए आपको एहतियातन कदम उठाने पड़ते हैं। अधिकारी ने कहा कि प्रशासन और पुलिस का मुख्य ध्यान बृहस्पतिवार को स्वतंत्रता दिवस समारोह पर है। उन्होंने कहा, ''राज्यभर में शांतिपूर्ण समारोह सुनिश्चित करने के लिए सभी बंदोबस्त किए गए हैं।

जम्मू कश्मीर के प्रधान सचिव रोहित कंसल ने बताया कि राज्य में कुल मिलाकर शांति है। कंसल ने भी मीडिया को संबोधित किया। उन्होंने कहा, ''श्रीनगर समेत कई इलाकों में निषेधाज्ञा के आदेश में ढील दी गई है जो आज दोपहर तक जारी रहेंगी। कंसल ने कहा कि अन्य सभी मोर्चों - नागरिक आपूर्ति, राष्ट्रीय राजमार्ग, हवाईअड्डा, चिकित्सीय सुविधाओं - पर स्थिति सामान्य है। उन्होंने कहा, ''स्थानीय प्राधिकारी पहले की तरह स्थिति पर करीबी नजर रख रहे हैं और स्थिति के हिसाब से ढील दे रहे हैं।

घाटी में हालात की जानकारियां देते हुए खान ने कहा कि कुछ स्थानों पर पाबंदियां हैं। किसी विशेष स्थान की स्थिति का आकलन करने के बाद प्रतिबंध लगाए जाते हैं। एडीजी ने कहा, ''ऐसा नहीं है कि प्रतिबंध व्यापक रूप से लगाए जाते हैं। किसी खास इलाके की स्थिति का आकलन करने के बाद प्रतिबंध लगाए जाते हैं...उस इलाके के हालात का आकलन करने के बाद ही ढील दी जाती है। स्थिति का आकलन करने और शांति, कानून एवं व्यवस्था की स्थिति बनाए रखने के लिए आवश्यक कदम उठाने की जिम्मेदारी जिला प्रशासन, जिला मजिस्ट्रेट और जिला एसपी की होती है।

राहुल ने स्वीकारा राज्यपाल का न्यौता,'मालिकजी, बिना शर्त आने को तैयार'

पाकिस्तान की ओर से चलाए जा रहे दुष्प्रचार के बारे में खान ने कहा कि जब भी राज्य में कानून एवं व्यवस्था की बड़ी स्थिति उत्पन्न होती है तो पड़ोसी देश ऐसा दुष्प्रचार करता है तथा इन कोशिशें को विफल करने के लिए सभी कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा, ''आप जल्द ही परिणाम देखेंगे। फर्जी खबरें और गलत सूचना दे रहे कुछ टि्वटर अकाउंट के बारे में एक सवाल के जवाब में अधिकारी ने कहा कि उनकी पहचान कर ली गई है और उनके खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी गई है।उन्होंने कहा कि कश्मीर के लोगों को उनका संदेश है कि 15 अगस्त उत्साह के साथ मनाए।जम्मू कश्मीर में प्रतिबंध पांच अगस्त को लागू किए गए थे जब केंद्र ने उसका विशेष दर्जा हटाया और उसे दो केंद्र शासित प्रदेशों जम्मू-कश्मीर तथा लद्दाख में विभाजित कर दिया था।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Jammu Kashmir ADG told Kashmiris celebrate Independence Day dabake