DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाक को मुंह तोड़ जवाब: भारतीय सेना ने 5 पाकिस्तानी सैनिकों को मार गिराया

Pak soldiers killed

जम्मू-कश्मीर के राजौरी के बिंबर और बट्टल सेक्टर में पकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देते हुए भारतीय सेना ने पांच पाकिस्तानी सैनिकों को मार गिराया। इसमें पाकिस्तानी सेना के छह जवान घायल हो गए हैं। वहीं एलओसी पर फायरिंग मामले में पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने भारतीय उप-उच्चायुक्त जेपी सिंह को समन किया है। 

इससे पहले जम्मू-कश्मीर के राजौरी और पुंछ जिलों में नियंत्रण रेखा पर स्थित अग्रिम चौकियों पर पाकिस्तान ने गुरुवार को मोटार्र से गोले दागे और गोलीबारी कर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। इसमें जनरल इंजीनियरिंग रिजर्व फोर्स (जीआरईएफ) का एक श्रमिक मारा गया जबकि दो अन्य लोग घायल हो गए। घायलों में बीएसएफ का एक जवान भी है। संघर्ष विराम उल्लंघन का भारत की सेना ने माकूल जवाब दिया।

जम्मू-कश्मीर: सोपोर में 2 आतंकी ढेर, राजौरी में पाक को मुंहतोड़ जवाब

रक्षा प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल मनीष मेहता ने बताया, पाकिस्तानी जवानों के संघर्ष विराम उल्लंघन में जीआरईएफ का एक असैन्य कर्मी शहीद हो गया जबकि जीआरईएफ का एक चालक घायल हो गया। कृष्णघाटी सेक्टर में बीएसएफ का एक हेड कांस्टेबल किरचें लगने से घायल हो गया। उसकी हालत खतरे से बाहर है।

उन्होंने कहा, पाकिस्तानी सेना ने सुबह साढ़े सात बजे राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर स्थित अग्रिम चौकियों पर मोटार्र दागे और गोलीबारी की। उन्होंने बताया कि पाकिस्तानी सैनिकों ने सुबह सात बजकर 40 मिनट पर पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा पर कृष्णघाटी सेक्टर में भी गोलीबारी की।

सीजफायर का उल्लंघन:पाक ने LOC पर की फायरिंग,एक श्रमिक की मौत और 2 घायल

नियंत्रण रेखा पर बालनोई और मानकोट सेक्टरों में भी गोलीबारी की खबरें हैं। उन्होंने कहा, भारत की सैन्य चौकियों ने इसका जोरदार और प्रभावी जवाब दिया और अभी भी गोलीबारी जारी है। इस वर्ष मई माह में पाकिस्तानी सेना की ओर से गोलेबारी और गोलीबारी से लगभग 12,000 लोग प्रभावित हुए।

गत 17 मई को पाकिस्तान की सेना ने राजौरी जिले के बालाकोट सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर स्थित अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की थी। 15-16 मई को राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी सेना ने अग्रिम इलाकों और रहवासी क्षेत्रों पर गोले बरसाए थे।

पाकिस्तानी सेना ने 13 मई को नौशेरा इलाके में नियंत्रण रेखा पर रहवासी इलाकों और अग्रिम चौकियों पर मोटार्र से गोले दागे थे, जिसमें दो आम नागरिकों की मौत हो गई थी जबकि तीन घायल हो गए थे।

गूगल मैप में देखें पहले कब कहां-कहां ढेर हुए दहशतगर्द

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Jammu & Kashmir: 5 Pak soldiers killed in retaliatory fire assaults by Indian Army in Bhimber