DA Image
18 सितम्बर, 2020|9:29|IST

अगली स्टोरी

अनुच्छेद 370 के खात्मे को एक साल: कभी अलगाववाद और आतंकवाद का गढ़ रहे लाल चौक पर रम्यसा रफीक ने लहराया तिरंगा, जानिए कौन हैं ये

rumysa rafiq national flag lal chowk

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटे एक साल पूरा हो गया है। इन 365 दिनों में जम्मू-कश्मीर में क्या-क्या बदला है उसकी एक बानगी यह तस्वीर भी है। कभी आतंक और अलगाववाद का गढ़ बन चुके अनंतनाग के लाल चौक पर आज देश का तिरंगा बेखौफ माहौल में फहराया गया। बीजेपी की कार्यकर्ता रम्यसा रफीक की यह तस्वीरें सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही हैं। रम्यसा बुधवार सुबह हाथ में तिरंगा लिए लाल चौक पहुंचीं और काफी देर तक यहां तिरंगा लहराती रहीं। 

केंद्र सरकार ने पिछले साल 5 अगस्त को ही जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को निष्प्रभावी करके आलगाववाद की जड़ें काट दी थीं। अनंतनाग के लाल चौक पर अक्सर अलगाववादी लोगों को भड़काकर पत्थरबाजी कराया करते थे। लेकिन पिछले एक साल में इन घटनाओं में नाटकीय अंदाज में कमी आई है। सभी बड़े अलगाववादियों का धंधा चौपट हो चुका है। सुरक्षाबलों ने आतंकवाद पर भी बड़ा प्रहार किया है और इस साल कई बड़े आतंकी मौत के घाट उतार दिए गए।

सुरक्षा बल से जुड़े एक अधिकारी के मुताबिक घाटी के बड़े हिस्से में एक बड़ा बदलाव ये महसूस किया जा रहा है कि स्थानीय लोग आतंकवाद पर कार्रवाई का विरोध नही करते। बुरहान वानी की तरह आतंकियों को हीरो बनाने का चलन कम हुआ है। पहले पुलिस की गाड़ी देखते ही पत्थर फेंकने की घटनाएं होती थीं। पुलिस प्रशासन के दावों से इतर स्थानीय लोग भी मानते हैं कि अब ये घटनाएं कम हुई हैं। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Jammu and Kashmir bjp member Rumysa Rafiq hoists the national flag at Lal Chowk in Anantnag