DA Image
19 जनवरी, 2020|4:39|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हिंसक प्रदर्शन व आगजनी आप विधायक अमानतुल्लाह खान ने दी सफाई, बोले- जहां आग लगी वहां नहीं था मौजूद, झूठे हैं आरोप

file photo  pti

नागरिकता कानून के विरोध में दिल्ली में हिंसक प्रदर्शन और अगजनी की बड़ी घटनाएं देखने को मिलीं। हिंसक प्रदर्शन और आगजनी के पीछे आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान हाथ बताया जा रहा था। अमानतुल्लाह खान ने उनपर लग रहे सभी आरोपों को खारिज करते हुआ बयान जारी किया है।

अमानतुल्लाह खान की मानें तो नागरिकता कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन में वे शामिल जरूर थे। लेकिन उन विरोध प्रदर्शनों में कहीं कोई हिंसा नहीं हुई। जिस विरोध प्रदर्शन में वे शामिल थे वो शांतिपूर्वक ढंग से हुआ। हिंसा और आगजनी से उनका कोई लेना-देना नहीं है।

ओखला विधायक अमानतुल्ला ने विरोध प्रदर्शन और आगजनी उनकी अगुवाई में होने के आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए कहा- ''टीवी में खबर चल रही है कि अमानतुल्ला की अगुवाई में न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में बसों को जला दिया गया। मैं शाहीन बाग सरिता विहार में हो रहे मुजाहिरे में मौजूद था। उसके बाद न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी के मुजाहिरे में शामिल हुआ। जहां मुजाहिरा हुआ वहां कोई आगजनी नहीं हुई है। इसके सारे रिकॉर्ड्स मौजूद हैं, सीसीटीवी फुटेज मौजूद हैं।''

दूसरी तरफ दिल्ली में भाजपा अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी ने अमानतुल्लाह खान पर हिंसा भड़काने के आरोप लगाए हैं। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Jamia violence AAP MLA Amanatullah Khan denies violent protest citizenship amendment act delhi