DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्राइवेट ऑपरेटर वाली ट्रेन में कोई रियायत नहीं, शताब्दी से इतना ज्यादा होगा किराया

Irctc.co.in: भारतीय रेल की यात्री ट्रेन को पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) मॉडल में निजी क्षेत्र को सौंपने की तैयारी जोरों पर है। लेकिन निजी ट्रेन ऑपरेटरों वाली ट्रेन में रेलवे की ओर से मुहैया कराई जाने वाली सभी रियायतें खत्म हो जाएंगी। इसके साथ ही इन ट्रेन का किराया भी शताब्दी से 20 गुना से अधिक होने की संभावना है।

रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि वर्तमान में राजधानी, शताब्दी, दुरंतो सहित मेल-एक्सप्रेस ट्रेन में 53 प्रकार की रियायतें दी जाती हैं। इनमें बुजुर्ग, महिलाएं, कैंसर, हृदय, गुर्दे जैसी गंभीर बीमारी से ग्रसित मरीज, दिव्यांग, खिलाड़ी, शहीदों की विधवाओं, छात्रों, युवाओं, कलाकारों व पुरस्कार विजेता शामिल हैं। कैंसर मरीज को एसी-3 में मुफ्त यात्रा जबकि सहायक को स्लीपर में 75 फीसदी रियायात मिलती है। अधिकांश रियायतें विभिन्न श्रेणियों में 75 से 50 व 40 फीसदी तक हैं।

ट्रेन में कपड़े के झूले में लटक कर नहीं करना पड़ेगा सफर, चलेगी स्पेशल ट्रेन

रेलवे देता है सभी रियायतें 

अधिकारी ने बताया कि लखनऊ से दिल्ली तक चलने वाली तेजस ट्रेन सहित दो ट्रेन को आईआरसीटीसी की मदद से निजी ट्रेन ऑपरेटरों से चलाने की योजना है। बताया जा रहा है कि निजी ट्रेन ऑपरेटरों को सौंपने के बाद उपरोक्त प्रकार की सभी रियायतों को बंद कर दिया जाएगा, क्योंकि यह सभी रियायतें रेलवे की ओर से दी जाती रही हैं। 

प्रति यात्री केवल 57 रुपये मिलते हैं

अधिकारी के अनुसार, रेलवे की अधिकांश ट्रेन घाटे में चल रही हैं। वर्तमान में 100 रुपये में से रेलवे को प्रति यात्री 57 रुपये मिलते हैं। इस कारण यात्री किराया मद में रेलवे का सालाना घाटा 35,000 करोड़ रुपये पहुंच गया है।

ट्रेन के हर कोच में कपड़े का झूला बना 1500 किमी का सफर करते हैं यात्री

शीर्ष अधिकारियों ने बैठक ली

रेलवे बोर्ड के शीर्ष अधिकारियों ने 100 दिन के एजेंडे में दो यात्री ट्रेन को निजी ऑपरेटरों को सौंपने की योजना को अंतिम रूप देने के लिए गुरुवार को निवेशकों, डेवलपर्स और अन्य हितधारकों के साथ एक बैठक की। बैठक में रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष वी.के. यादव व सदस्य यातायात, आईआरसीटीसी के अधिकारी और कई निजी क्षेत्र की दिग्गज कंपनियों के प्रतिनिधि, रोलिंग स्टॉक निर्माता, एयरलाइन, क्रूज लाइन के अधिकारी और ट्रेवल एजेंट भी शामिल थे। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:irctc co in fare of private train will be high