ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशइंटेलिजेंस ब्यूरो चीफ तपन कुमार डेका पर सरकार मेहरबान, एक साल बढ़ा कार्यकाल

इंटेलिजेंस ब्यूरो चीफ तपन कुमार डेका पर सरकार मेहरबान, एक साल बढ़ा कार्यकाल

आई बी चीफ के रूप में तपन कुमार डेका ने लेफ्ट विंग उग्रवाद और छत्तीसगढ़ के बस्तर में माओवादियों के खिलाफ महत्वपूर्ण अभियानों को सफलता पूर्वक अंजाम दिया है। उनके कार्यकाल को 1 साल बढ़ा दिया गया है।

इंटेलिजेंस ब्यूरो चीफ तपन कुमार डेका पर सरकार मेहरबान, एक साल बढ़ा कार्यकाल
ib chief tapan kumar deka
Upendra Thapakलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 24 Jun 2024 11:32 PM
ऐप पर पढ़ें

1988 बैच हिमाचल कैडर के आईपीएस अधिकारी और आतंकवाद रोधी अभियानों के विशेषज्ञ तपन कुमार डेका 30 जून 2024 को रिटायर होने वाले थे। अब केन्द्र सरकार ने उनके रिटायरमेंट पर रोक लगाकर उनके कार्यकाल को एक साल के लिए बढ़ा दिया है। डेका के पास पूर्वोत्तर में उग्रवाद से निपटने और इंडियन मुजाहिदीन के खात्में में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका के लिए जाने जाते हैं।

सरकार की ओर से जारी आदेश में कहा गया कि मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति ने श्री तपन कुमार डेका को इंटेलिजेंस ब्यूरो के निदेशक के रूप में एक वर्ष तक या अगले आदेश तक, जो भी पहले हो, सेवा में विस्तार को मंजूरी दे दी है। वर्तमान में तपन डेका वाशिंगटन डी.सी. की ऑफिशियल यात्रा पर हैं। तपन ने इंटेलिजेंस ब्यूरो के लिए संयुक्त निदेशक के रूप में कार्य किया है। पिछले दो दशकों से वह भारत में इस्लामी चरमपंथ के खिलाफ हुए अभियानों का हिस्सा रहे हैं। डेका ने 1990 के दशक से पूर्वोत्तर में भी काम किया है। वह पूर्वोत्तर उग्रवाद के विशेषज्ञ हैं।

आईबी चीफ के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान डेका ने मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के इलाकों में वामपंथी चरमपंथियों के खिलाफ हुए अभियानों का सक्रिय रूप से हिस्सा रहे। चरमपंथी अब केवल छत्तीसगढ़ के बस्तर जिले तक ही सीमित हैं। डेका ने अमेरिका में भी भारत के लिए काम किया है। इंडियन मुजाहिदीन के समूह को हराने और 26/11 आतंकी हमले की जांच में भी डेका ने अपनी भूमिका प्रमुखता से निभाई।