DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दुनिया की सबसे ऊंची चोटी एवरेस्ट पर भारतीयों का परचम

16 साल की शिवांगी बनी सबसे कम उम्र की पर्वतारोही
16 साल की शिवांगी बनी सबसे कम उम्र की पर्वतारोही

हरियाणा के हिसार की रहने वाली 16 साल की लड़की शिवांगी पाठक ने अपने नाम एक अनूठी उपलब्धी जोड़ ली। गुरुवार को विश्व की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट को फतह करने वाली वह सबसे कम उम्र की महिलाओं की लिस्ट में शामिल हो गईं। शिवांगी ने बताया कि वह एवरेस्ट पर चढ़कर दुनिया को यह दिखाना चाहती थीं कि महिलाएं किसी भी लक्ष्य को पा सकने में सक्षम हैं। शिवांगी ने दिव्यांग पर्वतारोही अरुणिमा सिन्हा को अपनी प्रेरणा बताया। बता दें कि अरुणिमा सिन्हा माउंट एवरेस्ट पर तिरंगा फहराने वाली विश्व की पहली दिव्यांग पर्वतारोही हैं। 

मुरी लिंग्गी के लिए एवरेस्ट फतह किसी चुनौती से कम नहीं
मुरी लिंग्गी के लिए एवरेस्ट फतह किसी चुनौती से कम नहीं

अरुणाचल प्रदेश की मुरी लिंग्गी इस राज्य की तीसरी ऐसी महिला हैं, जिसने एवरेस्ट फतह करने में सफलता पाई है। उनसे पहले तिन मेना और अंशु जामसेनपा यह खिताब पा चुकी हैं। अरूणाचल प्रदेश के निचली दिबांग घाटी जिले के रोइंग की रहने वाली 40 वर्षीय मुरी चार बेटियों की मां है। उन्होंने 14 मई को सुबह 8 बजे दुनिया की सबसे ऊंची चोटी को फतह किया। इससे पहले उन्होंने 2013 में पश्चिम कमेंग जिले में राष्ट्रीय पर्वतारोहण और संबंधित खेल संस्थान से पर्वतारोहण का कोर्स किया था। वह हिमाचल प्रदेश की मेंथोसा चोटी और 2017 में अरुणाचल की गोरीचेन चोटी फतह कर चुकी हैं।  

मुश्किलों से हारे नहीं और एवरेस्ट पर फहरा दिया तिरंगा
मुश्किलों से हारे नहीं और एवरेस्ट पर फहरा दिया तिरंगा

रोहताश खिलेरी ने दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट को फतेह कर जिले के साथ-साथ राज्य का नाम पूरे देश में रोशन किया है।  21 वर्षीय रोहताश ने बताया कि माउंट एवरेस्ट की 8,848 मीटर की चढ़ाई पूरी करने में रोहताश उन्हें को करीब 25 लाख रुपये की जरूरत थी। आर्थिक तंगी से जूझ रहे रोहताश के पिता सुभाष चन्द्र ने जमीन गिरवी रखकर उनके एवरेस्ट मिशन के लिए पैसों का इंतजाम किया। पेशे से किसान सुभाष बताते है कि वर्ष 2014 में रोहताश नेपाल खेलने गया थे, जहां ऊंची पहाड़ियों को देखकर उनके मन में इसका शिखर को छूने की इच्छा हुई। रोहताश को एवरेस्ट की चढ़ाई करने के दौरान कई बार तूफानों का सामना करना पड़ा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Indians make way to worlds tallest peak Mt Everest