DA Image
11 जनवरी, 2021|4:51|IST

अगली स्टोरी

रेलवे नौकरियां देने में विफल, जानिए कितनी पड़ी हैं खाली सीटें

Indian Rail (File Pic)

रेलवे विगत वर्षों में नौकरियां देने में विफल रहा है, जबकि कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति से रिक्तियां बढ़ती गईं।

आंकड़ों पर गौर करें तो नवंबर 2018 तक रेलवे में ग्रुप-सी और डी के 2,66,790 पद रिक्त थे। वर्ष 2016-17 के दौरान रेलवे में कुल 13,08,323 कर्मचारी कार्यरत थे। इससे पहले 2008-09 में रेलवे में कर्मचारियों की कुल संख्या 13,86,011 थी। इस प्रकार हर साल जितने कर्मचारी सेवानिवृत्त हुए, उसके मुकाबले नई भर्तियां कम हुईं।

क्या सरकार ने सरकारी पदों की मौजूदा रिक्तियां भरने की दिशा में अपेक्षित कोशिश की है? दुनिया का सबसे बड़ा नियोक्ता प्रतिष्ठान भारतीय रेल भी नौकरियां देने में विफल रहा है। सूचना का अधिकार कानून के तहत मांगी गई जानकारी से जो जवाब मिला है, वह चौंकाने वाला है। वर्ष 2008 से लेकर 2018 तक  एक भी साल ऐसा नहीं रहा, जब रेलवे के जितने कर्मचारी सेवानिवृत्त हुए, उससे अधिक नई भर्तियां हुईं हों। इसलिए रेलवे में रिक्त पदों की संख्या करीब तीन लाख हो गई है।

ये भी पढ़ें: रेलवे का तोहफा, लोको पायलट और गार्ड का रनिंग अलाउंस किया दोगुना

--------------------------------------------------

रेलवे से सेवानिवृत्त कर्मचारी नई भर्तियां 

---------------------------------------

वर्ष  रिटायर कर्मी नई भर्तियां

2009-10 41,372 11,825

2010-11 43,251 5,913    

2011-12 44,360 23,292 

2012-13 68,728 28,467 

2013-14 60,728 31,805

2014-15 59,960 15,191

2015-16 53,654  27,995

2016-17 58,373 19,587

2017-18 अनुपलब्ध 19,100

ये भी पढ़ें: चार्ट बनने के बाद भी कनफर्म होंगे वेटिंग टिकट, जानिए रेलवे का नया नियम

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Indian Railway fail to deliver jobs know how many seats are vacant