DA Image
1 जुलाई, 2020|4:36|IST

अगली स्टोरी

कोरोना के लिए रीमेडिसविर के इस्तेमाल को भारतीय ड्रग कंट्रोलर की मंजूरी

 remdesivir

भारत के ड्रग कंट्रोलर जनरल वीजी सोमानी ने मंगलवार को स्वास्थ्य मंत्रालय में संयुक्त सचिव, लव अग्रवाल ने जानकारी दी कि भारत के ड्रग कंट्रोलर जनरल वीजी सोमानी ने कोविड -19 मरीजों के इलाज के लिए गिलियड साइंसेज इंक के नॉवेल ड्रग रीमेडिसविर के इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है।

अग्रवाल ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, "डीसीजीआई ने रेमेडिसविर के लिए एक आपातकालीन उपयोग की अनुमति दी है। यह उन सबूतों पर आधारित है, जो कंपनी ने कोविद -19 के खिलाफ इसके उपयोग का समर्थन करने के लिए प्रदान किए गए थे।"अग्रवाल ने कहा कि दवा के उपयोग के लिए प्रोटोकॉल पर आगे का विवरण सरकार द्वारा उचित समय पर प्रदान किया जाएगा। भारत में, गिलेड ने सिप्ला, जुबिलेंट लाइफ साइंसेज, हेटेरो ड्रग्स और माइलान को एक रॉयल्टी-फ्री व्यवस्था के तहत वैकल्पिक दवा मिलने तक या विश्व स्वास्थ्य बीमा के पदनाम को हटाने तक स्वैच्छिक लाइसेंस दिया है। 

गिलियड का रीमेसिविर पहले इबोला के लिए परीक्षण के अधीन था, लेकिन वह दवा नैदानिक ​​परीक्षणों को पारित नहीं कर सकी। हालांकि, कोविड -19 महामारी ने दवा को एक नया जीवन दिया है, जिसे विशेषज्ञों ने निर्माण के लिए जटिल बताया है। गिलियड साइंसेज इंक ने सोमवार को कहा कि मध्यम कोविद -19 निमोनिया के साथ अस्पताल में भर्ती मरीजों में इसके चरण 3 नैदानिक ​​परीक्षण से पता चला है कि रीमेडिसविर के पांच-दिवसीय उपचार पाठ्यक्रम में अकेले मानक देखभाल की तुलना में अधिक नैदानिक ​​सुधार हुआ।

हालांकि देश में कोरोना की मारक क्षमता में कमी आई है। अब 90 फीसदी से अधिक मरीज हल्के लक्षण वाले सामने आ रहे हैं। यह कहना है एम्स निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया का। उनके मुताबिक, शुरू में जो वायरस था वह गंभीर लक्षण वाला था। उससे प्रभावित लोगों को आइसोलेशन में रखा गया इसलिए वह ज्यादा नहीं फैला। एम्स निदेशक ने 'हिन्दुस्तान' से विशेष बातचीत में कहा कि 12 से 13 शहरों में 80% से अधिक मामले हैं। यदि हमने हॉटस्पॉट नियंत्रित कर लिए तो पीक दो से तीन हफ्ते में आ जाएगा। केस कम हों और दोगुना होने में ज्यादा वक्त लगेगा तो पीक जल्द आएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Indian Drug Controller Approves Use of Remedesiver for Corona virus in emergency condition