Indian Army has foiled an infiltration attempt by a Pakistani BAT squad - सेना ने BAT की घुसपैठ की कोशिश को किया नाकाम, पाक कमांडो सहित 5 आतंकी ढेर DA Image
12 दिसंबर, 2019|1:11|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सेना ने BAT की घुसपैठ की कोशिश को किया नाकाम, पाक कमांडो सहित 5 आतंकी ढेर

photo-ani

सेना ने जम्मू कश्मीर के केरन सेक्टर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पास अग्रिम चौकी पर पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम (बैट) के एक हमले को विफल कर दिया। इस दौरान कम से कम पांच से सात घुसपैठिये मारे गये है। एक रक्षा प्रवक्ता ने यहां यह जानकारी दी। बैट में आमतौर पर पाकिस्तानी सेना के विशेष बल के जवान और आतंकवादी शामिल होते हैं।

रक्षा प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने कहा, ''बैट टीम ने केरन सेक्टर (कुपवाड़ा जिले में) की अग्रिम चौकियों में से एक को निशाना बनाने का प्रयास किया और सतर्क सैनिकों ने उनके इस प्रयास को विफल कर दिया। इसमें पांच से सात जवान/आतंकवादी मारे गये है।" सूत्रों ने बताया कि बैट ने 31 जुलाई और एक अगस्त की दरम्यानी रात यह प्रयास किया।

उन्होंने बताया कि सेक्टर में भारतीय चौकी के निकट कम से कम चार शव देखे गये है। ये शव पाकिस्तानी सेना के स्पेशल सर्विस ग्रुप (एसएसजी) के कमांडो या आतंकवादियों के हो सकते हैं। उन्होंने बताया कि पाकिस्तान ने पिछले 36 घंटों में घाटी में शांति को भंग करने और अमरनाथ यात्रा को निशाना बनाने के कई बार प्रयास किये। रक्षा प्रवक्ता ने बताया कि दो अभियानों में जैश-ए-मोहम्मद के चार आतंकवादी मारे गये है और उनके पास से एक स्नाइपर राइफल, आईईडी और पाकिस्तान के निशान वाली बारूदी सुरंग बरामद की गई है।

उन्होंने कहा, ''यह स्पष्ट रूप से आतंकवादी गतिविधियों में पाकिस्तान की मिलीभगत को दिखाता है। एलओसी पर सुरक्षा बल सभी नापाक गतिविधियों का जवाब देना जारी रखेंगे।" सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तान ने पिछले कुछ दिनों में जैश-ए-मोहम्मद और अन्य संगठनों के आतंकवादियों की जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ कराने के प्रयास किये है। अधिकारी ने बताया कि कश्मीर में पिछले कुछ दिनों में मारे गए आतंकवादियों में जीनत उल इस्लाम, उमर वानी और खालिद भाई शामिल हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Indian Army has foiled an infiltration attempt by a Pakistani BAT squad