DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मसूद अजहर पर कार्रवाई के लिए दबाव बढ़ाएगा भारत

terrorist masood azhar

आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) के सरगना मसूद अजहर (Masood Azhar) पर कार्रवाई के लिए भारत दबाव बनाए रखेगा। संयुक्त राष्ट्र द्वारा वैश्विक आतंकी घोषित किए जाने के बाद पाकिस्तान को मसूद अजहर की संपत्तियों को जब्त करना होगा। उसके संगठन की गतिविधियों पर प्रभावी रोक लगानी होगी। हथियारों को जब्त करना होगा।

अगर पाकिस्तान उस पर प्रभावी कार्रवाई करने में सक्षम नहीं होता है तो उसे फायनेंसियल एक्शन टॉस्क फोर्स (एफएटीएफ) में कार्रवाई का सामना करना पड़ सकता है। पाकिस्तान अभी भी एफएटीएफ की ग्रे लिस्ट में है। उसे पहले से प्रतिबंधित संगठनों और उनके आकाओं पर संतोषजनक कार्रवाई नहीं करने की वजह से ही इस सूची में रखा गया है। ताजा घटना के बाद अब उसपर दबाव बढ़ गया है।

भारत देगा एफएटीएफ सदस्यों को जानकारी
सूत्रों ने कहा कि भारत कूटनीतिक कवायद के तहत एफएटीएफ के देशों को पाकिस्तान की आतंकी संगठनों पर कार्रवाई में हीलाहवाली पर खुफिया स्रोतों से हासिल इनपुट साझा करता रहा है। अगर पाकिस्तान अपनी लीपापोती जारी रखता है तो भारत सदस्य देशों को जानकारी देकर उसपर दबाव बढ़ाएगा।

फरवरी में मिली थी फटकार
फरवरी में हुई समीक्षा बैठक में एफएटीएफ ने कहा था कि पाकिस्तान ने आतंकी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई में संतोषजनक प्रगति नहीं की हे। आतंकी वित्तपोषण को लेकर संगठन ने पाकिस्तान को लताड़ा था। इसके चलते ही उसे ग्रे लिसट में बरकरार रखा गया। हालांकि वह काली सूची में आने से बच गया था।

ब्लैकलिस्ट होने का खतरा बरकरार
एफएटीएफ ने अक्तूबर 2019 तक संगठन द्वारा तय मानकों के तहत कार्रवाई का समय दिया था। अगर पाकिस्तान इस अवधि में प्रभावी कार्रवाई नहीं करता है तो उसे ब्लैकलिस्ट भी किया जा सकता हे। अगर पाकिस्तान ब्लैकलिसट होता है तो उसे कई वित्तीय प्रतिबंधों का सामना भी करना पड़ सकता है।

रस्मी कार्रवाई से धूल झोंकता रहा है पाक
पाकिस्तान एफएटीएफ को जानकारी देने के लिए अपने यहां सक्रिय आतंकी संगठनों पर रस्मी कार्रवाई करता रहा है। पिछली बैठक से पहले उसने हाफिज सईद के आतंकी संगठन जमात-उद-दावा और फलाह-ए-इंसानियत को प्रतिबंधित करने का दावा किया था। दाऊद पर भी पाक दुनिया को गुमराह करता रहा हे। भारत विभिन्न स्रोतों से पाकिस्तान में सक्रिय संगठनों और उनकी गतिविधियों को लेकर जानकारी एकत्र करता रहा है। भारत ने पाक में पल रहे आतंकी संगठनों की वित्तीय फंडिंग को लेकर विश्व के देशों को समय समय पर आगाह किया है। सूत्रों ने कहा कि मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने के बाद भारत पाकिस्तान में मौजूद जैश के आतंकी अड्डों की जानकारी उपलब्ध कराके उनपर कार्रवाई के लिए दबाव डालेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:India will increase pressure for take action on terrorist Masood Azhar