DA Image
31 अक्तूबर, 2020|1:11|IST

अगली स्टोरी

संसद में सरकार ने दिया जवाब- कोरोना वायरस के टीके को लेकर रूस के साथ चल रही है बातचीत

a nurse shows a box with russia s sputnik-v vaccine prepared for inoculation in the post-registratio

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने शुक्रवार को कहा कि कोविड-19 के टीके के विकास के लिए सहयोग की संभावना तलाशने को लेकर रूस की सरकार के साथ बातचीत की जा रही है। उन्होंने लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में यह जानकारी दी।

चौबे ने कहा कि केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन (सीडीएससीओ) ने सूचित किया है कि रूस में कोरोना वायरस का एक टीका विकसित किया गया है और उसे मंजूरी मिली है। मंत्री के मुताबिक, आईसीएमआर ने भी यह सूचित किया है कि दुनिया भर में 36 टीकों पर काम चल रहा है।

इस दौरान मंत्री ने भारत में चल रहे कोरोना वायरस के टीके और उसके परीक्षणों के प्रगति के बारे में बताते हुए कहा कि सरकार और कंपनियां जल्द से जल्द कोरोना के लिए एक सुरक्षित और प्रभावित टीका उपलब्ध कराने की पूरी कोशिश कर रही है लेकिन वैक्सीन तैयार होने में कई प्रकाई की जटिलताओं को देखते हुए इसके सटीक समयसीमा पर टिप्पणी करना मुश्किल है।

यह भी पढ़ें- महाराष्ट्र में कोरोना के 21656 नए केस, 24 घंटे में 405 लोगों की गई जान

एक सवाल के जवाब में केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कोरोना के टीके के क्लीनिकल परीक्षण सफल होते हैं तो एक प्रभावी टीका 2021 की पहली तिमाही के अंत तक उपलब्ध हो सकता है। उन्होंने कहा कि किसी टीका निर्माता के साथ कोई पूर्व खरीद समझौता नहीं किया गया है।

अन्य प्रश्न के सवाल के जवाब में मंत्री ने कहा है कि पहले चरण के क्लीनिकर परीक्षण में भारत बायोटेक की ओर से भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद और आईसीएमआर के साथ मिलकर तैयारा किया जा रहा टीका और कैडिला हेल्थकेयर द्वारा विकसित किए जा रहे टीके सुरक्षित रहे हैं और उनकी प्रतिरक्षा क्षमता का परीक्षण चल रहा है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:India talking to Russia for possible advancement Covid-19 vaccine here says Minister of state for health Ashwini Choubey