DA Image
12 जनवरी, 2021|4:36|IST

अगली स्टोरी

मालाबार नेवल एक्सरसाइज में भारत, जापान और अमेरिका संग ऑस्ट्रेलिया भी होगा शामिल, बढ़ेगी चीन की बेचैनी

 malabar naval exercises

नरेंद्र मोदी सरकार ने अगले महीने होने जा रहे वार्षिक मालाबार नेवल एक्सरसाइज के लिए ऑस्ट्रेलिया को आमंत्रित किया है, जबकि जापान और अमेरिका ने पहले ही इसमें शामिल होने को लेकर पुष्टि कर दी है। भारत के इस कदम से एक तरफ QUAD को मजबूती मिलेगी तो चीन की बेचैनी बढ़ेगी। यह पहली बार है जब QUAD के सभी सदस्य एक साथ सैन्य अभ्यास में शामिल होंगे।

यह ऐसे समय पर होने जा रहा है जब भारत और चीन के बीच सीमा पर तनाव चार दशक में चरम पर है। मालाबार सैन्य अभ्यास के जरिए भारत, जापान, ऑस्ट्रेलिया और अमेरिका के नौसैनिक साल के अंत में बंगाल की खाड़ी में साथ युद्धाअभ्यास करेंगे। इस मामले से जुड़े लोगों के मुताबिक, मालाबार अभ्यास दो हिस्सों में होगा। अभ्यास पहले 3-6 नवंबर और फिर 17-20 नवंबर के बीच होगा। चारों देशों का साझा उद्देश्य मुक्त और स्वतंत्र हिंद प्रशांत क्षेत्र है।

रक्षा मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ''भारत समुद्री सुरक्षा क्षेत्र में दूसरे देशों के साथ सहयोग बढ़ाना चाहता है और ऑस्ट्रेलिया के साथ रक्षा सहयोग में वृद्धि को देखते हुए मालाबार 2020 में ऑस्ट्रेलियन नेवी की भी सहभागिता होगी। इस बार अभ्यास को 'नॉन कॉन्टैक्ट एट सी' फॉर्मेट में तैयार किया गया है। अभ्यास से शामिल देशों के नेवी के बीच सहयोग और समन्वय मजबूत होगा।

भारत, जापान, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया के बीच यह अभ्यास QUAD विदेश मंत्रियों की बैठक के बाद होने जा रहा है। 6 अक्टूबर को टोक्यों में चोरों देशों के विदेश मंत्रियों के बीच बातचीत हुई थी। पिछली बार भारत ने 2007 में ऑस्ट्रेलिया को गैर स्थायी पार्टनर के रूप में आमंत्रित किया था। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:India sends invite to Australia for Malabar naval exercises us Japan already confirming their participation