ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशभारत से कोरोना टीके की 20 लाख खुराक भेजी जाएंगी ब्राजील, इस देश में नहीं मिली है अब तक किसी वैक्सीन को मंजूरी

भारत से कोरोना टीके की 20 लाख खुराक भेजी जाएंगी ब्राजील, इस देश में नहीं मिली है अब तक किसी वैक्सीन को मंजूरी

ब्राजील को 20 लाख डोज कोरोना वैक्सीन की सप्लाई शुक्रवार तक किए जाने की खबरों के बीच भारत ने कहा है कि अभी विशिष्ट मामलों में कुछ कहना मुमकिन नहीं है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने...

भारत से कोरोना टीके की 20 लाख खुराक भेजी जाएंगी ब्राजील, इस देश में नहीं मिली है अब तक किसी वैक्सीन को मंजूरी
विशेष संवाददाता,नई दिल्लीFri, 15 Jan 2021 12:32 AM
ऐप पर पढ़ें

ब्राजील को 20 लाख डोज कोरोना वैक्सीन की सप्लाई शुक्रवार तक किए जाने की खबरों के बीच भारत ने कहा है कि अभी विशिष्ट मामलों में कुछ कहना मुमकिन नहीं है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि अब तक भारत से टीकों के लिए विभिन्न देशों के अनुरोधों के संबंध में प्रधानमंत्री पहले ही कह चुके हैं कि भारत का टीका उत्पादन और वितरण क्षमता का उपयोग इस संकट से लड़ने में समस्त मानवता के लाभ के लिए किया जाएगा।

श्रीवास्तव ने कहा कि जैसा कि आप जानते हैं, टीकाकरण की प्रक्रिया अभी भारत में शुरू हो रही है। अन्य देशों को आपूर्ति पर एक विशिष्ट प्रतिक्रिया देना जल्दबाजी होगी, क्योंकि हम अब भी इस संबंध में निर्णय लेने के लिए उत्पादन कार्यक्रम और उपलब्धता का आकलन कर रहे हैं। इसमें कुछ समय लग सकता है। हालांकि ब्राजील के स्वास्थ्य मंत्री ने भारत से वैक्सीन आपूर्ति की पुष्टि की है।

बताया जा रहा है कि भारत में निर्मित वैक्सीन को लेने के लिए ब्राजील का एक विशेष विमान भारत भेजा गया है। सूत्रों ने कहा कि बुधवार को ब्राजील से एक प्लेन भारत के लिए रवाना हुआ है, जो यहां से दो मिलियन यानी की 20 लाख डोज वैक्सीन लेकर शुक्रवार को अपने देश वापस लौट जाएगा। इस वैक्सीन का निर्माण एस्ट्रेजनेका द्वारा ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के साथ मिलकर सीरम इंस्टिट्यूट द्वारा किया गया है।

ब्राजील के स्वास्थ्य मंत्री एडवर्डो पाजुएलो ने कहा कि वैक्सीन मंगवाने के लिए सभी कागजी प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। उन्होंने कहा कि 16 जनवरी को उनका विमान वैक्सीन लेकर ब्राजील वापस लौट जाएगा। जिसके बाद स्वास्थ्य नियामक इसके आपातकालीन इस्तेमाल के लिए मंजूरी देगा। गौरतलब है कि ब्राजील ने भारत बायोटेक से भी करार किया है। ब्राजील सरकार कोरोना वैक्सीनेशन की धीमी रफ्तार को लेकर दबाव में है, लैटिन अमेरिका के सबसे बड़े देश में टीकाकरण की शुरुआत होने वाली है, लेकिन नियामक ने अब तक प्रयोग के लिए किसी भी कोरोना वैक्सीन को मंजूरी नहीं दी है।