ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशऐसी पॉलिसी नहीं, चिंता की बात; निखिल गुप्ता के खिलाफ अमेरिका में केस पर क्या बोला भारत

ऐसी पॉलिसी नहीं, चिंता की बात; निखिल गुप्ता के खिलाफ अमेरिका में केस पर क्या बोला भारत

विदेश मंत्रालय का कहना है कि सभी पहलुओं पर गौर करने के लिए उच्च स्तरीय जांच समिति की स्थापना की गई है। समिति के निष्कर्षों पर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

ऐसी पॉलिसी नहीं, चिंता की बात; निखिल गुप्ता के खिलाफ अमेरिका में केस पर क्या बोला भारत
Himanshu Jhaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्ली।Thu, 30 Nov 2023 01:22 PM
ऐप पर पढ़ें

भारत सरकार के विदेश मंत्रालय ने अमेरिका में खालिस्तानी आतंकवादी की हत्या की साजिश रचने के आरोप में दोषी ठहराए गए भारतीय नागरिक निखिल गुप्ता केस पर प्रतिक्रिया दी है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा है कि हमारी ऐसी कोई पॉलिसी नगीं है। यह चिंता का विषय है। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान प्रवक्ता ने कहा, "जैसा कि हमने पहले भी कहा है द्विपक्षीय सुरक्षा सहयोग पर अमेरिका के साथ चर्चा के दौरान अमेरिकी पक्ष ने संगठित अपराधियों और आतंकवादियों के बीच सांठगांठ से संबंधित कुछ इनपुट साझा किए। हम ऐसे इनपुट को बहुत गंभीरता से लेते हैं।''

विदेश मंत्रालय का कहना है कि सभी पहलुओं पर गौर करने के लिए उच्च स्तरीय जांच समिति की स्थापना की गई है। समिति के निष्कर्षों पर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने इसकी जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि हम ऐसे सुरक्षा मामलों के बारे में कोई और जानकारी साझा नहीं कर सकते हैं।

प्रवक्ता ने कहा, "जहां तक एक व्यक्ति के खिलाफ अमेरिकी अदालत में कथित तौर पर उसे एक भारतीय अधिकारी से जोड़ने का मामला दर्ज किया गया है, यह चिंता का विषय है। हमने कहा है और मैं दोहराना चाहता हूं कि यह सरकारी नीति के भी विपरीत है।" प्रवक्ता ने कहा, "अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर संगठित अपराध, तस्करी, बंदूक चलाने और चरमपंथियों के बीच सांठगांठ कानून प्रवर्तन एजेंसियों और संगठनों के लिए विचार करने के लिए एक गंभीर मुद्दा है।"

कनाडा मुद्दे पर विदेश मंत्रालय ने कहा कि कनाडा ने लगातार भारत विरोधी चरमपंथियों को जगह दी है। यही इस मुद्दे का मूल है। प्रवक्ता ने कहा, "कनाडा में हमारे राजनयिकों को इसका खामियाजा भुगतना पड़ा है। इसलिए हम उम्मीद करते हैं कि कनाडा सरकार वियना कन्वेंशन के तहत अपने दायित्वों को पूरा करेगी।"

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें