DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

4 दशकों से भारत-चीन बॉर्डर पर नहीं चली 'एक भी गोली' : पीएम मोदी

पीएम मोदी (Agency file photo)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हमारे सहयोगी अखबार हिंदुस्तान टाइम्स को दिए ईमेल इंटरव्यू में भारत-चीन विवाद को लेकर खुलकर बात की है।  मोदी ने कहा कि भारत और चीन के बॉर्डर तनाव जरूर रहा है लेकिन पिछले चार साल में न कभी भारत की तरफ से और न ही चीन की तरफ से एक भी गोली चली है। डोकलाम मुद्दे पर मोदी ने कहा कि भूटान सीम पर विवाद 2017 में ही सुलझाया जा चुका है। वहां केवल दो महीने तक भारत और चीन की सैना तैनात रही थी। लेकिन अगस्त 2017 में ही डोकलाम मुद्दे को भी सुलाझा लिया गया। दो महीने तक दोनों देशों की सैना वहां मौजूद रही लेकिन उसके बाद  दोनों देशों ने सेना हटा ली।

मोदी ने कहा कि कभी-कभी सीम पर अलग-अलग धारणाओं के कारण कोई घटना हो जाती है लेकिन दोनों देश उसे शांतिपूर्ण तरीके से हल कर लेते हैं। इसी का नतीजा है कि पिछले चार सालों में भारत-चीन बॉर्डर पर एक भी गोली नहीं चली, ना ही कोई बड़ी घटना हुई। दोनों देशों ने सीमा पर शांति बनाए रखी है। मोदी ने कहा 2018 में वुहान में शी जिनपिंग से अनौपचारिक मुलाकात के बाद दोनों देशों के बीच रिश्ते मजबूत और विश्वास बनाए रखने का वादा किया गया था।

मोदी ने बताया, पिछले कुछ महीनों और बीते चार सालों में शी जिनपिंग से मेरी काफी बार मुलाकात हुई। लेकिन वुहान में अनौपचारिक मुलाकात के बाद हमारे रिश्तों में एक नया मोड़ आया है। इसलिए समिट के अलावा भी बीच में हम कई बार मिले। लगातार मुलाकात करने से हमारे बीच का विश्वास बढ़ा है। दोनों देशों के बीच समझदारी आई है। 

राजनीति से ऊपर उठकर शांति बनाने की जरूरत

पीएम मोदी ने मॉब लिंचिंग की घटनाओं पर कहा है कि हर किसी को राजनीति से ऊपर उठकर समाज में शांति और एकता बनाने की जरूरत है। एएनआई न्यूज एजेंसी को शनिवार को दिए साक्षात्कार में उन्होंने मॉब लिंचिंग से जुड़े सवाल पर कहा, "मेरी पार्टी और मैं इन घटनाओं और ऐसी मानसिकता पर कई मौकों पर साफ-साफ कह चुके हैं। यह सब रिकॉर्ड में है। इस तरह की एक भी घटना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। हमारे समाज में शांति और एकता सुनिश्चित करने के लिए हर किसी को राजनीति से ऊपर उठना चाहिए।"

महागठबंधन पर बोले पीएम मोदी- विपक्षी दलों का प्रयास

पीएम मोदी ने मॉब लिंचिंग की घटनाओं को अपराध करार देते हुए कहा कि इस तरह की घटनाओं (मॉब लिंचिंग) को महज आंकड़ों तक सीमित रख कर राजनीति करना एक मजाक होगा। एक होकर इस तरह की घटनाओं का विरोध करने के बजाय अपराध और हिंसा जैसी घटनाओं का राजनीतिक फायदा उठाना एक विकृत मानसिकता का परिचायक है।

आरक्षण रहेगा कायमः

पीएम मोदी ने आरक्षण के खत्म होने की रिपोर्ट को सिरे से नकारते हुए साफ किया कि आरक्षण कायम रहेगा। मोदी ने बाबा भीमराव आंबेडकर द्वारा दिए गए संविधान के सपनों को हम पूरा करेंगे। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि डॉ. आंबेडकर ने संविधान द्वारा हमारे उद्देश्य और सपनों को पूरा किया है। इसलिए यह हम सभी की जिम्मेदारी है कि संविधान में दिए महत्वपूर्ण व्यवस्था आरक्षण द्वारा इसे पूरा किया जाए। उन्होंने साफ किया कि आरक्षण हर हाल में कायम रहेगा, इसमें किसी भी तरह का शंका या संदेह किसी को नहीं होना चाहिए। बाबा साहब के सशक्त भारत के सपने को साकार करने के लिए सरकार पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। हमारी सरकार का मूल मंत्र ‘सबका साथ सबका विकास’ है जिसके माध्यम से हम गरीब, पीडि़त, शोषित, दलित, आदिवासी और ओबीसी के अधिकारों की रक्षा करना है। 

  बाबा साहब भीम राव आंबेडकर के सपनों को करेंगे पूरा: मोदी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:India China not firing a single bullet over border From last Four Decades says Modi