DA Image
2 नवंबर, 2020|7:35|IST

अगली स्टोरी

IPU की बैठक में आमने-सामने होगा भारत-पाकिस्तान, अध्यक्ष पद पर मात देने की तैयारी

pakistan refuses to grant visa to indian diplomat

भारत और पाकिस्तान एकबार फिर आमने-सामने होने वाले हैं। विभिन्न संसदों की सर्वोच्च संस्था इंटर-पार्लियामेंट्री यूनियन (IPU) की गवर्निंग काउंसिल की बैठक में दोनों देशों के बीच एक छोटी कूटनीतिक लड़ाई देखने को मिल सकती है। 

पाकिस्तान आईपीयू का अध्यक्ष बनने के लिए चुनाव लड़ रहा है। इसका सामना पुर्तगाल, कनाडा और उज्बेकिस्तान के तीन अन्य उम्मीदवारों से है। अधिकारियों के अनुसार, भारत पाकिस्तान की उम्मीदवारी का विरोध करने के लिए तैयार है। भारत पुर्तगाल के ड्यूर्टे पाचेको या उज्बेकिस्तान से अकमल सैदोव को अपना समर्थन दे सकता है। आपको बता दें कि  कनाडा से सलमा अताउल्लाह और पाकिस्तान से मुहम्मद संजरानी चुनावी मैदान में हैं।

जहां भारत ने पाकिस्तान को आतंकी संगठनों के समर्थन करना वाला बताया है, वहीं पाकिस्तान ने कई बार कश्मीर मुद्दे को उठाने की असफल कोशिश की है।

आईपीयू अध्यक्ष पद के लिए उम्मीदवार का भारत का समर्थन भी भारत के राजनयिक स्टैंड को दर्शाता है। आपको बता दें कि लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला भारतीय संसदीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करेंगे, जिसमें अधिकारियों के साथ सांसद पूनमबेन हेमतभाई मडाम और स्वपन दासगुप्ता भी शामिल हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:India and Pakistan set to clash at global body meeting