DA Image
21 अक्तूबर, 2020|6:37|IST

अगली स्टोरी

भारत-चीन के बीच मोल्डो में 13 घंटे तक चली कोर कमांडर-स्तरीय बैठक, शीर्ष अधिकारियों को दी जाएगी जानकारी

india china core commanders meeting may be held next week  file pic

लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर भारत और चीन के बीच छठी कोर कमांडर-स्तरीय बैठक सोमवार रात 13 घंटे की मैराथन वार्ता के बाद संपन्न हुई। बैठक में शामिल भारतीय प्रतिनिधियों के द्वारा अब वरिष्ठ अधिकारियों को चीन के साथ होने वाली चर्चाओं के बारे में जानकारी दी जाएगी।

14 कोर चीफ लेफ्टिनेंट जनरल हरिंदर सिंह और लेफ्टिनेंट जनरल पीजीके मेनन, विदेश मंत्रालय के संयुक्त सचिव के साथ मोल्डो में आयोजित चीनी पक्ष के साथ बैठक में शामिल हुए।  यह बैठक सोमवार को लगभग 10 बजे सुबह शुरू हुई और 11 बजे रात तक चली।

यह भी पढ़ें- भारतीय जवानों की मदद के लिए हिमालय की चोटी तक चढ़ जा रहे हैं चुशुल के लोग

दोनों पक्षों के कोर कमांडर एक महीने से अधिक समय के बाद मिले। आपको बता दें कि दोनों पक्षों के बीच एलएसी पर कम से कम तीन बार गोलीबारी की घटना हुई। 

बैठक से पहले, शुक्रवार को आखिरी सप्ताह में भारतीय पक्ष के एजेंडे और मुद्दों पर चर्चा की गई और एक उच्च-स्तरीय बैठक के दौरान इसे अंतिम रूप दिया गया। इसमें राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत और सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवाने ने भाग लिया।

यह भी पढ़ें- भारत-चीन तनाव के बीच सेना में क्यों शामिल किए जा रहे दो कूबड़ वाले ऊंट? जानें इनकी खासियतें

यह वार्ता ऐसे समय में हुई जब भारतीय सेना ने छह प्रमुख पहाड़ियों पर कब्जा कर लिया है, जो भारतीय सेना को ऊंचाइयों पर हावी होने में मदद कर रहे हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:India and China Corps Commander talks went on for 13 hours Indian participants to brief top leadership now