DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्ट्रिप शो के नाम देशभर के लड़के-लड़कियों से एक दंपति ऐसे करता था ठगी, पढ़ें

strip show

स्ट्रिप शो के नाम पर ठगी करने वाला गिरोह कलकत्ता का निकला। इस गिरोह का सरगना एक दंपति है। गिरोह के दो बैंक खातों को साइबर क्राइम सेल ने फ्रीज करा दिया है। दोनों खातों में फिलहाल एक लाख 10 हजार रुपये मौजूद थे, जो फ्रीज हो गए हैं। पुलिस जांच में खुलासा हुआ है कि इस गिरोह ने उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र सहित कई राज्यों के हजारों लड़के-लड़कियों को स्ट्रिप शो में एन्जॉय करने के नाम पर ऑनलाइन ठगा है। 

पिछले माह मेरठ में कंकरखेड़ा क्षेत्र के एक रिसॉर्ट में स्ट्रिप शो के नाम पर ऑनलाइन बुकिंग का लिंक फेसबुक पर आया था। बाकायदा ऑनलाइन फॉर्म था और फीस भी ऑनलाइन जमा करनी थी। इसके लिए दो बैंक खाते दिए गए थे। फेसबुक पर लिंक में स्ट्रिप शो के आयोजन की जो तारीखें बताई गईं, उन दिनों रिसॉर्ट में कोई आयोजन नहीं हुआ। उल्टा, रिसॉर्ट मालिक ने एसएसपी को तहरीर देकर ऐसे किसी आयोजन से इनकार किया और ठगी की आशंका जताते हुए जांच की मांग की थी। 

साइबर क्राइम सेल इसकी जांच कर रही है। जांच में पाया गया कि जिन खातों में रकम डलवाई जा रही थी, वह कलकत्ता के बैंक में खुले हुए हैं। एक खाता सुपर्णा दास और दूसरा खाता मोहि उद्दुल अहमद निवासी 24 परगना, वेस्ट बंगाल के नाम पर है। साइबर सेल ने सोमवार को दोनों खाते फ्रीज करा दिए।

एक खाते में 70 हजार और दूसरे खाते में 40 हजार रुपये मौजूद थे। सुपर्णा दास का पति संजीव दास है जो इस गिरोह का मास्टर माइंड है। पुलिस अधिकारियों ने कंकरखेडा थाना पुलिस को तीनों पर मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया है।

कोई स्ट्रिप शो नहीं सिर्फ ठगी
पुलिस का मानना है कि मेरठ में स्ट्रिप शो आयोजन के सपने दिखाकर लोगों को सिर्फ ठगा जा रहा था। संभवत: यह गिरोह भी पश्चिम बंगाल के नक्सली इलाके में छिपा हुआ है, जहां से वह ऑनलाइन ठगी को अंजाम दे रहा है।.

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:in the name of strip show a couple used to cheat boys and girls from all over the country read how