In BSNL VRS Scheme 22000 employees applied in just two days - बीएसएनएल वीआरएस योजना: दो दिन में 22,000 कर्मचारियों ने किया आवेदन DA Image
21 नबम्बर, 2019|11:34|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीएसएनएल वीआरएस योजना: दो दिन में 22,000 कर्मचारियों ने किया आवेदन

सार्वजनिक क्षेत्र की दूरसंचार कंपनी भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) के कर्मचारियों ने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना (वीआरआस) को हाथों हाथ लिया है।

bsnl jpg

सार्वजनिक क्षेत्र की दूरसंचार कंपनी भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) के कर्मचारियों ने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना (वीआरआस) को हाथों हाथ लिया है। योजना घोषित होने के केवल दो दिन में ही 22,000 कर्मचारियों ने वीआरएस के लिए आवेदन कर दिया है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने गुरुवार को यह जानकारी दी। बीएसएनएल के कर्मचारियों की संख्या करीब 1.50 लाख है। इसमें से करीब एक लाख कर्मचारी वीआरएस के दायरे में आते हैं। बीएसएनएल की वीआरएस योजना पांच नवंबर को पेश की गई और यह तीन दिसंबर तक खुली रहेगी।

दूरसंचार कंपनी के एक अधिकारी ने कहा कि वीआरएस योजना अपनाने वाले कर्मचारियों की संख्या 22,000 को पार कर गयी है। बीएसएनएल को उम्मीद है कि करीब 77,000 कर्मचारी इस योजना का लाभ उठाएंगे। अधिकारी ने पीटीआई -भाषा से कहा कि आवेदन करने वाले कुल 13,000 कर्मचारी समूह-ग श्रेणी के हैं। हालांकि, हर श्रेणी के कर्मचारियों से अच्छी प्रतिक्रिया है। बीएसएनएल को उम्मीद है कि 70,000 से 80,000 कर्मचारी वीआरएस योजना को अपनाएंगे और इससे वेतन मद में करीब 7,000 करोड़ रुपए की बचत होगी।

Read Also: पेंशनभोगी ऐसे ऑनलाइन जमा कर सकते Life Certificate, जानें 5 स्टेप्स में

सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी की स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना-2019 के अनुसार 50 साल की आयु पूरी कर चुके या उससे अधिक उम्र के बीएसएनएल के सभी नियमित और स्थाई कर्मचारी वीआरएस के लिए आवेदन देने के पात्र हैं। इसमें वे कर्मचारी भी शामिल हैं जो बीएसएनएल के बाहर दूसरे संगठन में प्रतिनियुक्ति आधार पर काम कर रहे हैं। वीआरएस के तहत पात्र प्रत्येक कर्मचारी के लिए अनुग्रह राशि उसके पूरे किए गए प्रत्येक सेवा वर्ष के लिए 35 दिन तथा बची हुई सेवा अवधि के लिए 25 दिन के वेतन के बराबर होगी।

महानगर टेलीफोन निगम लि. (एमटीएनएल) ने भी अपने कर्मचारियों के लिए वीआरएस लागू की है। कर्मचारियों के लिए यह योजना तीन दिसंबर तक के लिए है। हाल में एमटीएनएल द्वारा कर्मचारियों को जारी नोटिस में कहा गया है, 'सभी नियमित और स्थाई कर्मचारी जो 31 जनवरी 2020 तक 50 साल पूरे कर लेंगे या उससे अधिक उम्र के होंगे, वे योजना के लिए पात्र होंगे।' सरकार ने पिछले महीने बीएसएनएल और एमटीएनएल के लिए 69,000 करोड़ रुपए के पुनरूद्धार पैकेज की घोषणा की थी।

Read Also: लॉन्च से पहले ही होंडा सिटी BS6 की बुकिंग शुरू, जानें संभावित कीमत

इसमें घाटे में चल रही दोनों सरकारी दूरसंचार कंपनियों का विलय, उनकी संपत्तियों को बाजार पर चढ़ाना तथा कर्मचारियों को वीआरएस देना शामिल है। इस कदम का मकसद विलय बाद बनने वाली इकाई को दो साल में लाभ में लाना है। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने एमटीएनएल और बीएसएनएल के विलय को मंजूरी दी। एमटीएनएल मुंबई और नई दिल्ली में सेवा देती है, जबकि बीएसएनएल देश के अन्य भागों में सेवा देती है।

पाइए देश-दुनिया की हर खबर सबसे पहले www.livehindustan.com पर। लाइव हिन्दुस्तान से हिंदी समाचार अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करें हमारा News App और रहें हर खबर से अपडेट।    

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:In BSNL VRS Scheme 22000 employees applied in just two days