DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

SC ने खारिज की दयानिधि मारन की याचिका, मुकदमे का करना होगा सामना

पूर्व टेलीकॉम मंत्री दयानिधि मारन

सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को पूर्व दूरसंचार मंत्री दयानिधि मारन और उनके भाई कलानिथि मारन की याचिका को खारिज कर दिया। गैरकानूनी टेलीफोन एक्सचेंज मामले में कोर्ट ने दोनों से केस का सामना करने को कहा है। 

सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करके मारन ने हाईकोर्ट के आदेश को रद्द करने की मांग की थी। कोर्ट ने सुनवाई के दौरान कहा कि मुकदमे का सामना करना पड़ेगा। शीर्ष अदालत ने कहा कि कोर्ट उस आदेश में हस्तक्षेप नहीं करेगा। 

ये भी पढ़ें: करीब 40 लाख लोग असम के अंतिम भारतीय नागरिक ड्राफ्ट में नहीं हैं शामिल

पिछले हफ्ते मद्रास उच्च न्यायालय ने सन ग्रुप के प्रमुख दयानिधि मारन और उनके बड़े भाई कलानिथी मारन के खिलाफ 12 सप्ताह के भीतर आरोपों को तैयार करने का आदेश दिया था। सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने मार्च महीने में मारन और अन्य आरोपियों को इस केस में बरी कर दिया था।

बता दें कि 51 वर्षीय दयानिधि मारन पर साल 2004-06 के बीच दूरसंचार मंत्री रहते हुए चेन्नई में अपने घर पर अवैध टेलीफोन एक्सचेंज स्थापित करने का आरोप है। इससे सरकार को 1.78 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:illegal telephone exchange case supreme court dismisses dayanidhi maran s appeal