ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देशIIT बॉम्बे के स्टूडेंट ने हॉस्टल की 7वीं मंजिल से कूदकर आत्महत्या की, सुसाइड नोट में डिप्रेशन बताई वजह

IIT बॉम्बे के स्टूडेंट ने हॉस्टल की 7वीं मंजिल से कूदकर आत्महत्या की, सुसाइड नोट में डिप्रेशन बताई वजह

इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT) बॉम्बे के एक स्टूडेंट की सुसाइड का मामला सामने आया है। IIT बॉम्बे के पोस्ट ग्रेजुएट इंजीनियरिंग छात्र ने सोमवार सुबह आत्महत्या कर ली। पुलिस अधिकारियों ने बताया...

IIT बॉम्बे के स्टूडेंट ने हॉस्टल की 7वीं मंजिल से कूदकर आत्महत्या की, सुसाइड नोट में डिप्रेशन बताई वजह
Niteesh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,मुंबईMon, 17 Jan 2022 02:20 PM

इस खबर को सुनें

इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT) बॉम्बे के एक स्टूडेंट की सुसाइड का मामला सामने आया है। IIT बॉम्बे के पोस्ट ग्रेजुएट इंजीनियरिंग छात्र ने सोमवार सुबह आत्महत्या कर ली। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि 26 साल के इस स्टूडेंट ने अपने हॉस्टल की इमारत की सातवीं मंजिल से छलांग लगा दी।

पवई पुलिस के मुताबिक, मृतक को सात मंजिला हॉस्टल की इमारत के बाहर वॉचमैन ने देखा, जब वह रेगुलर चक्कर लगा रहा था। वॉचमैन ने संस्थान के एक अधिकारी को फोन किया, जिसके बाद मामले की सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस को मृतक के कमरे की तलाशी लेने पर सुसाइड नोट मिला है।

सुसाइड नोट में डिप्रेशन की बात
पवई पुलिस स्टेशन के पुलिस अधिकारी ने कहा कि सुसाइड नोट में उसने कहा कि वह डिप्रेशन में था और उसका इलाज चल रहा था। उसने इस कदम के लिए किसी और को दोष नहीं दिया है। पवई पुलिस थाने के सीनियर पुलिस इंस्पेक्टर बुधन सावंत ने कहा, "हमने एक्सिडेंटल डेथ का केस दर्ज कर लिया है। मृतक के सहयोगियों और प्रोफेसर्स के बयान दर्ज कर रहे हैं। उनके परिवार को घटना की जानकारी दे दी गई है।"

हायर एजुकेशनल इंस्टिट्यूट में 2014-2021 के बीच 122 छात्रों ने आत्महत्या की
संसद सत्र के दौरान शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने यह बताया था कि आईआईटी, आईआईएम, केंद्रीय विश्वविद्यालयों, आईईएससी और दूसरे हायर एजुकेशनल इंस्टिट्यूट में 2014 से 2021 के बीच 122 छात्रों ने आत्महत्या की। इनमें से आनुसूचित जाति वर्ग से 24, अनुसूचित जनजाति वर्ग से 3, अन्य पिछड़ा वर्ग से 41 और अल्पसंख्यक वर्ग से तीन छात्र शामिल हैं।

epaper