ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देशपीएम की सुरक्षा में चूक: कांग्रेस सरकार से अलग मनीष तिवारी के सुर, बोले- हाई कोर्ट के जज से कराई जाए जांच

पीएम की सुरक्षा में चूक: कांग्रेस सरकार से अलग मनीष तिवारी के सुर, बोले- हाई कोर्ट के जज से कराई जाए जांच

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पंजाब दौरे के दौरान सुरक्षा में हुई चूक का मामला तुल पकड़ते जा रहा है। पीएम की सुरक्षा में चूक पर अब कांग्रेस के सांसद मनीष तिवारी का बयान सामने आया है। मनीष तिवारी ने...

पीएम की सुरक्षा में चूक: कांग्रेस सरकार से अलग मनीष तिवारी के सुर, बोले- हाई कोर्ट के जज से कराई जाए जांच
Ashutosh Rayलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीThu, 06 Jan 2022 04:15 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पंजाब दौरे के दौरान सुरक्षा में हुई चूक का मामला तुल पकड़ते जा रहा है। पीएम की सुरक्षा में चूक पर अब कांग्रेस के सांसद मनीष तिवारी का बयान सामने आया है। मनीष तिवारी ने कहा कि अगर प्रधानमंत्री की सूरक्षा में कोई चूक हुई है तो उसकी जांच हाई कोर्ट के सिटिंग जज से कराई जाए। हालांकि, पंजाब में कांग्रेस की सत्ता है और वह सुरक्षा चूक से इनकार कर रही है। पंजाब सरकार का कहना है कि आखिरी वक्त में पीएम के रूट में बदलाव किया गया था।

मनिष तिवारी ने कहा 'प्रधानमंत्री की सुरक्षा एक सक्रिय संसद द्वारा शासित होती है। पीएम और उनके परिवार को कैसे सुरक्षित किया जाना है इसे लेकर एक निर्धारित प्रक्रिया है। सुरक्षा में कोई चूक हुई है तो उसकी हाई कोर्ट के सिटिंग जज से कराएं।' वहीं, पंजाब के मुख्यमंत्री ने चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा कि प्रधानमंत्री की सुरक्षा में कोई चूक नहीं हुई और इसके पीछे कोई राजनीतिक मंशा नहीं थी। उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा कि उनकी सरकार किसी भी जांच को तैयार है।

चन्नी के मंत्री ने पीएम की वापसी को बताया दुर्भाग्यपूर्ण

वहीं, चन्नी सरकार में मंत्री राणा गुरजीत सिंह ने गुरुवार को कहा कि पीएम मोदी के काफिले को फिरोजपुर पहुंचने के एक परेशानी मुक्त वैकल्पिक रास्ता प्रदान करना पंजाब के गृह मंत्री और पुलिस प्रमुख के अलावा विभिन्न केंद्रीय एजेंसियों की जिम्मेदारी है। इसके अलावा सिंह ने राज्य में विभिन्न विकास परियोजनाओं की आधारशिला रखे बिना प्रधानमंत्री की वापसी को 'दुर्भाग्यपूर्ण' बताया है। सिंह ने पंजाब कांग्रेस के नेता सुनील जाखड़ के उस बयान का भी समर्थन किया जिसमें उन्होंने पीएम को एक सुरक्षित रास्ता प्रदान करने की बात कही थी।

प्रदर्शनकारियों ने सड़क मार्ग को कर दिया था अवरूद्ध

गौरतलब है कि पंजाब के दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में बुधवार को उस वक्त चूक की घटना हुई, जब फिरोजपुर में कुछ प्रदर्शनकारियों ने उस सड़क मार्ग को अवरुद्ध कर दिया जहां से उन्हें गुजरना था। इस वजह से प्रधानमंत्री एक फ्लाईओवर पर करीब 20 मिनट तक फंसे रहे। घटना के बाद प्रधानमंत्री किसी कार्यक्रम में शामिल हुए बिना दिल्ली लौट आए।

epaper