DA Image
5 जून, 2020|2:40|IST

अगली स्टोरी

तमिलनाडु में सामने आए COVID-19 के 110 पॉजिटिव केस, सभी तबलीगी जमात के, UP में खोज निकाले गए 569 'कोरोना कैरियर्स'

hundred new patients identified in tamilnadu of tablighi jamaat up government finds 569 corona carri

14वीं शताब्दी के सूफी ख्वाजा निज़ामुद्दीन औलिया की दरगाह के लिए जाना जाता है। दक्षिणी दिल्ली का यह स्थान देश के विभिन्न भागों में कोरोना वायरस फैलने का एक केन्द्र बनकर उभरा है। इस क्षेत्र में एक मार्च से 15 मार्च तक तबलीगी जमात के एक कार्यक्रम में बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया था। निजामुद्दीन पश्चिम में तबलीगी जमात में हिस्सा लेने वाले छह लोगों की तेलंगाना में, एक की गुजरात में और जम्मू कश्मीर में एक व्यक्ति की मौत हो गई है।

तमिलनाडु में आज 110 नए केस आए हैं, सब तबलीगी जमात से जुड़े हुए हैं। अकेले दिल्ली में ही इस कार्यक्रम में शामिल हुए 53 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। इसके अलावा कार्यक्रम में शामिल हुए 441 लोगों में इस महामारी के लक्षण दिखने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। 

स्वास्थ्य मंत्रालय ने आज अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया, 'देश में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस के संक्रमण के 386 नए मामलों की पुष्टि हुई है। कोविड-19 के मामलों में वृद्धि राष्ट्रीय स्तर पर संक्रमण फैलने की दर को नहीं दर्शाती, बल्कि इस बढ़ोतरी में निजामुद्दीन (पश्चिम) में हुआ एक आयोजन प्रमुख वजह रहा।

उत्तर प्रदेश में ढूंढ निकाले गए तबलीगी जमात के 569 'कोरोना कैरियर्स'
तबलीगी जमात के मरकज में शामिल होने के बाद उत्तर प्रदेश में छिपे 'कोरोना कैरियर' पर प्रदेश सरकार ने सख्त रुख अपनाया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर प्रदेश पुलिस ने बीते 24 घंटे में प्रदेश भर में ताबड़तोड़ छापेमारी की। इस दौरान 569 कोरोना कैरियर ढूंढ निकाले गए। पुलिस ने जमातियों को अवैध रूप से ठहराने, नियमों का उल्लंघन करने में सैकड़ों मुकदमे भी दर्ज किए हैं। उनका पासपोर्ट भी जब्त करने के निर्देश दिए गए हैं। मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने आवास 5, कालीदास मार्ग पर 11 टीमों के अधिकारियों के साथ बैठक की। मुख्यमंत्री ने जमात से वापस आए लोगों की युद्ध स्तर पर तलाश करने के निर्देश दिए।

पुलिस के द्वारा पहचान होने के बाद इन लोगों का सैंपल लिया गया है। साथ ही जिस जनपद में हैं, वहीं इन सबको क्वारंटाइन कर दिया गया है। इसके साथ ही पुलिस 'कोरोना कैरियर' के संपर्क में आने वाले अन्य लोगों की तलाश भी कर रही है। इस दौरान 218 विदेशियों को भी चिह्नित किया गया है।

तबलीगी जमात में शामिल 200 लोगों की कर्नाटक में पहचान 
कर्नाटक सरकार उन करीब 200 लोगों की पहचान और तलाश में जमीन आसमान एक कर रही है जो दिल्ली के निजामुद्दीन (पश्चिम) में पिछले महीने हुए तबलीगी जमात के आयोजन में शामिल हुए थे। सरकार के अनुसार, ऐसी खबरें हैं कि तबलीगी-जमात के आयोजन में कर्नाटक के करीब 342 लोगों ने हिस्सा लिया था। राज्य सरकार के अनुसार, 200 का पता चल चुका है और उन्हें पृथक रखा गया है। शेष की खोज जारी है।

गृह मंत्री बसवराज बोम्मई ने बताया कि जमात में शामिल, कर्नाटक के लोगों का और उनके संपर्कों का पता लगाने के प्रयास किए जा रहे हैं। यह बहुत बड़ा कार्य है, हम कर रहे हैं। बोम्मई ने बताया कि इसके अलावा, जमात के आयोजन में शामिल कम से कम 62 विदेशी कर्नाटक लौट आए हैं। इनमें से 12 विदेशी तो अपने अपने देश पहले ही जा चुके हैं और 50 विदेशियों को पृथक रखा गया है।

तबलीगी जमात में शामिल हुए गुजरात में 71 क्वारंटाइन, एक की मौत
तबलीगी जमात में शामिल हुए 72 में से 71 लोगों को 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन कर दिया गया है। इनमें से एक की मौत हो गई है। इनमें से 34 अहमदाबाद, 20 भावनगर, 12 मेहशाना के लोग शामिल हैं। वहीं, मृतक भावनगर का रहने वाला था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Hundred New patients identified in Tamilnadu of Tablighi jamaat UP government finds 569 corona carriers