DA Image
2 अप्रैल, 2020|4:50|IST

अगली स्टोरी

हिन्दुस्तान शिखर समागम: प्रशांत किशोर सिर्फ टीवी के स्टूडियो में चर्चा का बड़ा चेहरा- मनोज झा

manoj jha

बिहार चुनाव में क्या चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर (पीके) बड़ा चेहरा बन रहे हैं। हिन्दुस्तान शिखर समागम में जब यह सवाल आरजेडी सांसद और राष्ट्रीय प्रवक्ता मनोज झा ने कहा कि टीवी के स्टूडियो में अगर चर्चा हो तो प्रशांत किशोर सबसे बड़ा चेहरा हैं। मनोज झा ने कहा कि बिहार ने इतिहास में हमेशा टर्निंग प्वाइंट दिए हैं। अगर नीतीश और लालू साथ नहीं आते तो 100 प्रशांत किशोर भी 2015 में हमें इतनी बड़ी जीत नहीं दिला पाते। 

उन्होंने कहा कि प्रशांत किशोर जी जब प्रेस वार्ता कर रहे थे तो नीतीश का लगातार नाम ले रहे थे। भाजपा का विरोध किसी से है तो सिर्फ राजद से है। प्रशांत किशोर का अभी तक स्टैंड क्लियर नहीं है नीतीश कुमार पर। हमें मिथ से बाहर निकलना पड़ेगा। जिस दिन प्रशांत किशोर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे और सरकार को घेर रहे थे, उस वक्त यह भी कह रहे कि नीतीश कुमार चाहें तो इस फ्रंट को लीड कर सकते हैं।

कन्हैया के साथ तेजस्वी की तुलना पर मनोज झा ने कहा कि सीएए-एनआरसी के खिलाफ आंदोलन को सत्ता पक्ष नहीं समझ पा रहा है और इसमें हर कोई शामिल हो रहा है। उन्होंने कहा कि तेजस्वी की रैली में भीड़ देखनी है तो शौक-ए-दीदार है तो नजर पैदा कर।

कन्हैया की सभा में भीड़ पर गौरव वल्लभ ने कहा कि झारखंड में मोदी की सभा में भी भारी भीड़ थी। साथ ही उन्होंने कहा कि कांग्रेस बिहार चुनाव की तैयारी कर रही है सकारात्मक मुद्दों की तैयारी कर रही हो लिट्टी चोखा खाते हुए प्रतीकात्मक चुनाव की तैयारी नहीं कर रही।  पीएम मोदी के लिट्टी-चोखा मामले पर गौरव ने कहा कि हो सकता है कि प्रधानमंत्री एक-दो महीने में भोजपुरी में ट्वीट कर सकते हैं। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Hindustan Shikhar Samagam: Prashant Kishore biggest face of discussion in TV studios only- Manoj Jha