DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Weather Alert : हिमाचल, उत्तराखंड समेत 10 राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी

rain  symbolic image

देश के उत्तरी और पहाड़ी राज्यों में भारी बारिश और बाढ़ ने तबाही मचा रखी है। मौसम विभाग ने हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पूर्वी मध्य प्रदेश समेत 10 राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी दी है। उत्तरकाशी में बादल फटने से अब तक 17 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, हिमाचल में बारिश और भूस्खलन से 24 लोगों की मौत हो गई है। पंजाब और हरियाणा के कुछ हिस्सों में बाढ़ जैसे हालात बने हुए हैं। वायुसेना करनाल के बाढ़ग्रस्त इलाके से 9 लोगों को बचा चुकी है।

मौसम विभाग के मुताबिक, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पूर्वी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु और पुड्डुचेरी के कुछ इलाकों में भारी बारिश की आशंका है। मानसून की शुरुआत से अब तक देशभर में 626 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है। यह सामान्य 612 मिमी से करीब 2% ज्यादा है।

उत्तरकाशी में सेना के दो हेलिकॉप्टर उत्तरकाशी में राहत और बचाव अभियान में जुटे हैं। मोरी से दो लोगों को सुरक्षित निकाला गया। उत्तरकाशी, चमोली, पिथौरागढ़, देहरादून, पौढ़ी और नैनीताल में 20 अगस्त को भारी बारिश का अलर्ट है। स्कूलों की छुट्टी घोषित की गई। बद्रीनाथ हाईवे पर 5 जगह भूस्खलन होने से 800 यात्री फंसे हुए हैं। बद्रीनाथ और हेमकुंड जा रहे यात्रियों को जोशीमठ, पांडुकेश्वर और गोविंदघाट में सुरक्षित स्थानों पर रोक लिया है।

पंजाब : भारी बारिश नहीं पर बाढ़ से परेशानी
राज्य के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने सोमवार को रूपनगर जिले में हालात का जायजा लिया। अधिकारियों के मुताबिक, लुधियाना 10 जिलों में बाढ़ का पानी घुसने के बाद लोगों को सुरक्षित निकाला गया है। मौसम विभाग के मुताबिक, पंजाब और हरियाणा के अधिकतर हिस्सों में सोमवार सुबह को भारी बारिश की सूचना नहीं मिली। पिछले तीनों दिन से इन राज्यों में भारी बारिश हो रही थी। रूपनगर में अमरिंदर सिंह ने संवाददाताओं से कहा, हम जल्द ही चीजों को सामान्य स्थिति में ले आएंगे। फिलहाल हमारी प्राथमिकता बाढ़ में फंसे लोगों को बचाने की है। बाढ़ का पानी उतरने के बाद नुकसान के आकलन का आदेश जारी कर दिया जाएगा। 

हरियाणा : गोताखोर तैनात, प्रशासन अलर्ट पर
यमुना नदी में अचानक पानी का स्तर बढ़ने से करनाल जिले के नौ लोग फंस गए। जिन्हें पुलिस के साथ मिलकर वायुसेना ने बचाया। रोपड़ से 2.4 क्यूसेक पानी छोड़े जाने से बनी खतरनाक स्थिति को देखते हुए जालंधर के डिप्टी कमिश्नर विरेंदर कुमार शर्मा ने एनडीआरएफ और एसडीआरएफ को शाहकोट, नकोदार और फिल्लौर के संवेदनशील इलाकों में तैनात रहने के आदेश जारी किए हैं। पुलिस-प्रशासन पूरी तरह अलर्ट पर है। उन्होंने बताया कि शाहकोट में एनडीआरएफ के 50 गोताखोरों को तैना किया गया है। जबकि नकोदार में एसडीआरएफ के 42 गोताखोरों को भेजा गया है। 

हिमाचल: 9 नेशनल हाईवे समेत 877 सड़कें बंद
राज्य के कुल 12 जिलों में से 11 भारी बारिश की चपेट में हैं। भूस्खलन और सड़क बहने से प्रदेशभर में 9 नेशनल हाईवे समेत 877 सड़कें बंद हो गईं। राज्य में रविवार को 102.5 मिमी बारिश हुई। यह एक दिन में होने वाली औसत बारिश से 1065% ज्यादा है। रविवार को शिमला में सतलज नदी पर बना पुल बह गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Heavy rain warning in 10 states including Himachal pradesh and Uttarakhand