DA Image
24 सितम्बर, 2020|10:21|IST

अगली स्टोरी

जेईई की परीक्षा रद्द कराने से जुड़ी याचिका पर बॉम्बे हाईकोर्ट में सुनवाई आज

bombay high court on private school fees

बॉम्बे हाई कोर्ट की नागपुर खंडपीठ ने जेईई परीक्षाओं को स्थगित करने की मांग करते हुए महाराष्ट्र के भंडारा निवासी छात्र के एक पत्र पर तत्काल सुनवाई के लिए मुकदमा दायर किया। पत्र में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में रहने वाले छात्रों की परीक्षा केंद्रों तक पहुंचने की अक्षमता की स्थिति बताई गई है।

केंद्र सरकार द्वारा जेईई और एनईईटी की परीक्षाएं आयोजित करवाएं जाने का छात्रों ने विरोध किया। इसको लेकर बिहार में रविवार को राजद छात्र कार्यकर्ताओ ने गया कॉलेज के मुख्य गेट पर प्रदर्शन किया। जेईई और एनईईटी की परीक्षाएं करवाए जाने का विरोध करते हुए कार्यकर्ताओं ने इन परीक्षाओं को कोरोना संक्रमण को देखते हुए फिलहाल रोक लगाने की मांग की है।

साथ ही छह महीने के स्कूल फी, रूम रेंट, बिजली बिल माफ करने की भी मांग सरकार व प्रशासन से की है। छात्र राजद जिला प्रभारी मुकेश सिंह यादव ने कहा कि कोरोना जैसे महामारी और बाढ़ आपदा में केवल शहरी व अमीर ही परीक्षा केंद्रों तक पहुंचने और परीक्षा देने में समर्थ होंगे। यह सरकार सिर्फ पैसों वाली की है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Hearing in Bombay High Court today on the petition related to cancellation of JEE exam