ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशस्कूल जा रही थी टीचर, दिनदहाड़े बदमाशों ने किया अगवा, सीसीटीवी में कैद हुई वारदार

स्कूल जा रही थी टीचर, दिनदहाड़े बदमाशों ने किया अगवा, सीसीटीवी में कैद हुई वारदार

कर्नाटक के हसन जिले में एक महिला स्कूल टीचर को तीन लोगों ने घसीट कर एक एसयूवी में जबरदस्ती बिठाया। सीसीटीवी फुटेज में महिला टीचर के अपहरण की घटना कैद हो गई है।

स्कूल जा रही थी टीचर, दिनदहाड़े बदमाशों ने किया अगवा, सीसीटीवी में कैद हुई वारदार
Himanshu Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,हसन, कर्नाटकThu, 30 Nov 2023 05:04 PM
ऐप पर पढ़ें

कर्नाटक के हसन जिले में एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है। गुरवार सुबह 23 वर्षीय एक महिला स्कूल टीचर को तीन लोगों ने घसीट कर एक एसयूवी में जबरदस्ती बिठाया। सीसीटीवी फुटेज में महिला टीचर के अपहरण की घटना कैद हो गई है। वायरल वीडियो में नजर आ रहा है कि एक एसयूवी कार धीरे-धीरे महिला टीचर के करीब आ रही है, जैसे एसयूवी पास आकर रुकती है तभी टीचर का कुछ लोगों ने अपहरण कर लिया। महिला टीचर का नाम अर्पिता बताया जा रहा है।

पुलिस की रिपोर्ट के मुताबिक, अर्पिता की मां को अपने रिश्तेदार रामू पर शक है। परिवार के अनुसार, दोनों ने कथित तौर पर लगभग चार साल तक डेट किया। इस बीच, चौंकाने वाली घटना इलाके में लगे एक सीसीटीवी कैमरे में रिकॉर्ड हो गई और सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। 

अर्पिता सुबह करीब 8 बजे स्कूल जा रही थी तभी कुछ लोगों ने उसे टोयोटा इनोवा में बिठा लिया और ले गए। अर्पिता के परिवार ने दावा किया है कि अपहरण के पीछे उनके रिश्तेदार रामू का हाथ है। परिवार के सदस्यों ने कहा कि रामू ने लगभग 15 दिन पहले अर्पिता से शादी करने की इच्छा जाहिर की थी, लेकिन उसने और उसके माता-पिता ने प्रस्ताव को ठुकरा दिया था। उन्होंने आरोप लगाया कि इससे नाराज होकर रामू ने अर्पिता अपहरण कर लिया।

घटनास्थल का दौरा करने वाले पुलिस अधीक्षक मोहम्मद सुजीथा ने कहा कि अपहरणकर्ताओं का पता लगाने के लिए तीन पुलिस टीमें गठित की गई हैं। पुलिस ने कहा, "परिवार ने अपहरण के पीछे रामू का हाथ होने का आरोप लगाया है। अर्पिता आराधना स्कूल में टीचर है और हम इस बात की जांच कर रहे हैं कि वह घर से बाहर क्यों निकलीं क्योंकि आज छुट्टी थी।"

एक स्थानीय व्यक्ति ने कहा कि उसने महिला की चीख सुनी और जब उसने देखा, तो पुरुषों ने उसे एक कार में बिठाया और भाग गए। महिला ने कहा, "उस समय सड़क पर ज्यादा लोग नहीं थे। जब वह चिल्लाई तो लोग यह देखने के लिए बाहर आए कि क्या हुआ था।''

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें