DA Image
30 मई, 2020|11:15|IST

अगली स्टोरी

दिल्ली के 92 रेड जोन में से आधे ऑरेंज जोन में बदले, 14 दिनों में नहीं आया एक भी मामला

a resident hands over an empty water bottle to a delivery person near barricades marking the pandav

दिल्ली सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने शनिवार को जानकारी दी कि दिल्ली सरकार द्वारा चिन्हित 92 कोरोना सक्रिय क्षेत्रों में से आधों में पिछले 14 दिनों में एक भी कोविड-19 का मामला सामने नहीं आया है और अगले 15 दिन में ये इलाके ग्रीन जोन में बदल सकते हैं। 

सरकार ने कोविड-19 मामलों की रिपोर्ट करने वाले इलाकों को मार्च के अंत से रोकथाम क्षेत्रों के रूप में अधिसूचित करना शुरू कर दिया। अधिकारियों ने कहा कि 126 इलाकों को रोकथाम क्षेत्र के रूप में घोषित किया गया था। पिछले कुछ हफ्तों में, अधिकारियों ने इन क्षेत्रों में से 34 को अपने रेड जोन से हटा दिया है, सक्रिय क्षेत्रों की संख्या को घटाकर 92 कर दिया है। 

भारत में कोरोना वायरस के मामलों में हर दिन इजाफा देखने को मिल रहा रहा है और रोज यह सबसे अधिक मामलों का रिकॉर्ड बनाता जा रहा है। आज भी कोरोना का अब तक का सबसे बड़ा उछाल सामने आया है। देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस से 6654 नए मामले सामने आए हैं और करीब 137 लोगों की मौतें हुई हैं। शनिवार को जारी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, देशभर में कोरोना वायरस के मामले बढ़कर करीब 125101 हो गए हैं और कोविड-19 से अब तक 3720 लोगों की मौत हो चुकी है। कोरोना के कुल 125101 केसों में 69597 एक्टिव केस हैं, वहीं 45299 लोगों को अस्पताल से छुट्टी मिल चुकी है या फिर वह ठीक हो चुके हैं। कोरोना वायरस से अब तक सर्वाधिक 1517 लोगों की मौत महाराष्ट्र में हुई। 

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस की सबसे अधिक तबाही देखने को मिल रही है। महाराष्ट्र में कोविड-19 के कुल 44582 पॉजिटिव केस मिल चुके हैं। इनमें से 12583 लोग पूरी तरह से स्वस्थ हो चुके हैं या उन्हें छुट्टी दे दी गई है। इस राज्य में अब तक सबसे अधिक 1517 लोगों की जान जा चुकी है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Half of Delhi s 92 Red Zone changed to Orange Zone not a single case came in 14 days