DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खुशखबरीः अब 12 घंटे में दिल्ली से मुंबई, 1 लाख करोड़ में बनेगा चंबल एक्सप्रेसवे

ExpressWay

केंद्र सरकार दिल्ली को मुंबई से जोड़ने के लिए एक नया एक्सप्रेसवे बनाने जा रही है। यह एक्सप्रेसवे हरियाणा के मेवात और गुजरात के दाहोद से होकर गुजरेगा। अगले तीन सालों में यह एक्सप्रेसवे बनकर तैयार हो जाएगा। इस बात की जानकारी केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने दी। गडकरी सोमवार को गुरुग्राम में एक निजी कार्यक्रम में शामिल होने आए थे। इस प्रोजेक्ट की लागत लगभग 1 लाख करोड़ रुपए बताई जा रही है। 
यह एक्सप्रेसवे मौजूदा दूरी को 1,450 किलोमीटर से घटाकर 1,250 किलोमीटर कर देगा। इससे यात्रा का समय भी केवल 12 घंटे का रह जाएगा। वर्तमान में एनएच-8 के जरिए दिल्ली से मुंबई जाने पर 24 घंटे का समय लगता है। गडकरी का कहना है कि इसपर दिसंबर से काम शुरू हो जाएगा और यह अगले तीन सालों में बनकर तैयार हो जाएगा।

हाइवे मंत्रालय के अधिकारी ने कहा- एक्सप्रेसवे गुरुग्राम में राजीव चौक से शुरू होगा। यह मौजूदा सोहना बाईपास की सड़क से बनाया जाएगा और वहां से इसे वडोदरा की नई ग्रीनफील्ड सड़क तक बनाया जाएगा। चंबल एक्सप्रेस के नाम से बनने वाले इस हाइवे से दिल्ली-मुंबई के साथ-साथ मध्य प्रदेश और राजस्थान

मंत्री ने बताया कि गुरुग्राम होते हुए दिल्ली से अलवर-सवाई माधोपुर-वडोदरा के रास्ते मुंबई तक एक्प्रेस हाईवे बनाया जाएगा, जिसके प्रथम चरण का वडोदरा से मुंबई तक के मार्ग के लगभग 44 हजार करोड़ के टेंडर हो चुके हैं। इस एक्सप्रेस हाईवे पर लगभग एक लाख करोड़ रुपये खर्च होंगे। उन्होंने कहा कि हाईवे बनने से दिल्ली-मुंबई के बीच दूरी कम होगी और इससे गुरुग्राम के लोगों को भी फायदा होगा। उन्होंने बताया कि अभी देश में राष्ट्रीय राजमार्गों की लंबाई लगभग 96 हजार किलोमीटर है और वर्तमान सरकार के कार्यकाल के अंत तक वे इस लंबाई को दो लाख किलोमीटर तक ले जाना चाहते हैं। 

 गडकरी ने कहा कि गुरुग्राम की ट्रैफिक जाम की समस्या के समाधान के लिए विभिन्न प्रोजेक्टो पर काम चल रहा है। इस दिशा में द्वारका एक्सप्रेस हाईवे बहुत कारगर सिद्ध होगा। इस हाईवे के चार पैकेज बनाए गए हैं। इनमें से 3 पैकेज अवार्ड हो चुके हैं और चौथे पैकेज में 24 घर अवरोधक बने हुए थे, जिन्हें वहां से हटाने के लिए सहमति बन चुकी है। अगले एक महीने के अंदर इस हाईवे पर निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। लगभग 17 किलोमीटर लंबाई के इस हाईवे पर 7 हजार करोड़ रुपये खर्च होंगे। वहीं, 15 हजार करोड़ की लागत से बने ईस्टर्न पैरिफेरियल रोड (ईपीआर) का उद्घाटन अगले सप्ताह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Govt announces plans to build Delhi-Mumbai expressway for Rs 1 lakh crore