ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशकौन बनेगा लोकसभा का अगला स्पीकर, चर्चा में ओडिशा और आंध्र प्रदेश के इन नेताओं का नाम सबसे आगे

कौन बनेगा लोकसभा का अगला स्पीकर, चर्चा में ओडिशा और आंध्र प्रदेश के इन नेताओं का नाम सबसे आगे

किरेन रीजीजू ने 18वीं लोकसभा का पहला सत्र शुरू होने से पहले कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे से मुलाकात की। रीजीजू की कांग्रेस प्रमुख के 10 राजाजी मार्ग स्थित आवास पर खरगे से मुलाकात हुई।

कौन बनेगा लोकसभा का अगला स्पीकर, चर्चा में ओडिशा और आंध्र प्रदेश के इन नेताओं का नाम सबसे आगे
Niteesh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 17 Jun 2024 10:48 PM
ऐप पर पढ़ें

संसद सत्र शुरू होने के 2 दिन बाद यानी 26 जून को सरकार की ओर से लोकसभा अध्यक्ष का नाम घोषित किया जा सकता है। रिपोर्ट के मुताबिक, इसे लेकर कई सारे नामों की चर्चा हो रही है। इनमें ओम बिड़ला भी शामिल हैं, जो पिछले कार्यकाल में अध्यक्ष थे। इसके अलावा, भतृहरि महताब और डी पुरंदेश्वरी भी इस दौड़ में शामिल हैं। ये नेता आंध्र प्रदेश और ओडिशा से आते हैं, जिनका एनडीए सरकार बनवाने में सबसे अधिक योगदान है। स्पीकर पोस्ट की लिस्ट में इनके नाम आगे बताए जा रहे हैं। अगर महताब की बात करें तो वह ओडिशा के जाने-माने नेता हैं। वह नवीन पटनायक की बीजू जनता दल छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे। वहीं, पुरंदेश्वरी पार्टी की आंध्र प्रदेश यूनिट की चीफ हैं।

ओडिशा और आंध्र प्रदेश दोनों ऐसे राज्य हैं, जहां भाजपा ने हाल ही में संपन्न लोकसभा चुनाव में शानदार प्रदर्शन किया है। ओडिशा में बीजेपी ने बीजेडी के 24 साल के शासन का अंत भी कर दिया। एनडीटीवी ने सूत्रों के हवाले से बताया कि 26 जून को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्पीकर के नाम पर प्रस्ताव पेश करने वाले हैं। जब यह प्रस्ताव स्वीकृत हो जाएगा तब वह सदन में अपनी मंत्रिपरिषद का परिचय देंगे। मालूम हो कि अध्यक्ष पद के लिए चुनाव तभी होता है जब विपक्ष भी अपना उम्मीदवार खड़ा कर देता है। इस बार, विपक्ष की मांग है कि उपसभापति का नाम दिया जाए। अगर सरकार यह बात नहीं मानती है तो वे चुनाव के लिए मजबूर होंगे। यह पद परंपरागत रूप से विपक्ष के पास रहा है।

18वीं लोकसभा का पहला सत्र 24 जून से होगा शुरू
गौरतलब है कि संसदीय कार्य मंत्री किरेन रीजीजू ने 18वीं लोकसभा का पहला सत्र शुरू होने से पहले कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे से मुलाकात की। रीजीजू ने कांग्रेस प्रमुख के 10 राजाजी मार्ग स्थित आवास पर खरगे से मुलाकात की। इस मुलाकात को शिष्टाचार भेंट बताया गया है। पिछले सप्ताह मंत्रालय का कार्यभार संभालते हुए रीजीजू ने कहा था कि सरकार या विपक्ष को संख्या बल के आधार पर एक-दूसरे को नीचा दिखाने की कोई जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा था कि संसद के सुचारू संचालन के लिए वह सभी से संपर्क करेंगे। 18वीं लोकसभा का पहला सत्र 24 जून से शुरू होगा और इस दौरान निचले सदन के नए सदस्य शपथ लेंगे और अध्यक्ष का चुनाव होगा। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू 27 जून को लोकसभा और राज्यसभा की संयुक्त बैठक को संबोधित करेंगी। अगले 5 वर्ष के लिए नई सरकार के कामकाज की रूपरेखा प्रस्तुत करेंगी।