अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खुशखबरी: घट सकते हैं पेट्रोल-डीजल के दाम, सऊदी अरब बढ़ाएगा उत्पादन

petrol diesel price may cut down

कच्चे तेल में भारी उछाल से परेशान भारत समेत एशियाई देशों को सस्ता कच्चा तेल मिलने की उम्मीद बढ़ गई है। दरअसल, वियना में चल रही उत्पादक देशों के संगठन ओपेक की बैठक में सऊदी अरब ने कच्चे तेल का उत्पादन रोजाना दस लाख बैरल बढ़ाने का प्रस्ताव रखा है। तेल आपूर्ति बढ़ाने का विरोध कर रहे ईरान का रुख भी नरम पड़ गया है। इससे पेट्रोल-डीजल में भी अगले कुछ दिनों में राहत मिल सकती है।

7वां वेतन आयोग:23 लाख पेंशनर्स को सरकार ने दिया 18000 रुपए तक का फायदा

ओपेक के नेतृत्वकर्ता सऊदी अरब के ऊर्जा मंत्री खालिद अल फालिह ने गुरुवार को कहा कि दुनिया में 2018 की दूसरी छमाही में तेल आपूर्ति में कमी हो सकती है, ऐसे में बाजार पर दबाव से बचाने के लिए ओपेक देशों को उत्पादन बढ़ाने की जरूरत है। ऑस्ट्रिया की राजधानी वियना स्थित ओपेक के मुख्यालय में फालिह ने कहा, उत्पादन बढ़ाने के इस लक्ष्य को हासिल किया जा सकता है। 

विशेषज्ञों का कहना है कि अगर दस लाख बैरल तेल उत्पादन बढ़ाने पर सहमति बन भी जाती है, फिर भी कुछ देशों के पास फिलहाल आपूर्ति बढ़ाने की क्षमता नहीं है। ऐसे में वास्तव में तेल उत्पादन में बढ़ोतरी छह से आठ लाख बैरल प्रति दिन तक हो सकती है। 

इस साल एक जनवरी से पेट्रोल 6.46 रुपये प्रति लीटर हुआ महंगा

सदस्य देशों को राजी कर रहा
सऊदी अरब ओपेक के 14 सदस्य देशों को उत्पादन बढ़ाने के लिए राजी कर रहा है। इसमें सऊदी अरब के धुर विरोधी ईरान का रुख सबसे अहम है। ईरान आपूर्ति बढ़ाने को लेकर सहमत दिख रहा है, लेकिन दस लाख बैरल तक उत्पादन बढ़ाने पर उसका रुख अहम साबित हो सकता है। 

भारत के लिए अहम फैसला
ओपेक देशों का तेल उत्पादन बढ़ने से कच्चे तेल के दाम नीचे आएंगे, जिससे भारत को भी राहत मिलेगी। पिछले एक साल में कच्चे तेल का दाम 40 फीसदी से ज्यादा बढ़ चुका है, इससे भारत का व्यापार घाटा और चालू खाते का घाटा बढ़ गया है। महंगाई ने भी इससे उछाल मारा है।

दबाव की रणनीति काम आई
भारत ने चीन, दक्षिण कोरिया और जापान जैसे एशियाई देशों के साथ मिलकर ओपेक पर दबाव डाला था कि वह कच्चे तेल के दाम में बनावटी उछाल लाने से बाज आए। भारत ने अमेरिका से भी तेल की आपूर्ति बढ़ा दी, जिससे ओपेक देशों पर बाजार खोने का डर पैदा हुआ। 

पेट्रोल-डीजल फिर हुआ सस्ता, जानिए कितना कम हुआ दाम

कल हो सकता है आधिकारिक ऐलान
ओपेक देशों की शुक्रवार को औपचारिक बैठक में आपूर्ति बढ़ाने का आधिकारिक ऐलान हो सकता है। पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी वियना में हैं। वह ओपेक महासचिव और ओपेक देशों के मंत्रियों से मिलेंगे। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Good news for indian petrol and diesel prices may cut down Saudi Arabia increased production