DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रसव पीड़ा कम करने के लिए अस्पताल में गायत्री मंत्र, अब हो रहा है विरोध

labor pains

राजस्थान के एक सरकारी अस्पताल में प्रसव कक्ष में बजाए जा रहे गायत्री मंत्र को लेकर सवाल खड़ा हो गया है। एक मुस्लिम कार्यकर्ता ने इसकी शिकायत स्वास्थ्य विभाग से की है, जिसके बाद इस संबंध में कार्रवाई करने की बात कही गई है। हालांकि डॉक्टरों का तर्क है कि गायत्री मंत्र से महिलाओं को दर्द में राहत मिलती है।.

सवाई माधोपुर के चीफ मेडिकल और हेल्थ ऑफिसर (सीएमएचओ) के मुताबिक, जिला अस्पताल में इस मंत्र को बजाया जा रहा है। जल्द ही इसका विस्तार किया जाएगा और जिले के कई अन्य अस्पतालों में बजाया जाएगा। प्रसव पीड़ा के दौरान इसे सुनने से दर्द में राहत मिलती है। सिरोही जिले के प्रिंसिपल मेडिकल ऑफिसर डॉ. रतना ग्रोवर ने कहा, हम लोग पिछले कई साल से लेबर रूम में भजन और गायत्री मंत्र बजा रहे हैं। भजन और गायत्री मंत्र के कारण महिलाओं को दर्द से राहत मिलती है।.

राज्य की ओर से कोई आदेश जारी नहीं : स्वास्थ्य विभाग के स्पेशल सेक्रेटरी समित शर्मा ने कहा, राज्य सरकार की ओर से किसी भी तरह का कोई आदेश नहीं जारी किया है। इस तरह के सलाह जरूर दिए गए हैं कि ध्यान करने वाले संगीत का प्रयोग किए जाएं। अगर कोई अस्पताल ऐसा कर रहा है तो सरकार इस मामले पर संज्ञान लेगी।.

लेबर रूम में गायत्री मंत्र बजने के कारण मुस्लिम कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। उन्होंने बताया, इस्लाम के मुताबिक नवजात के कान में सबसे पहले नमाज की आवाज जानी चाहिए। इस पूरे मामले को लेकर अभी तक स्वास्थ्य मंत्री का बयान नहीं आया है। .
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Gayatri Mantra in hospital to reduce labor pains