DA Image
16 अप्रैल, 2021|7:35|IST

अगली स्टोरी

पुणे से लेकर दिल्ली तक, ये हैं देश के 10 जिले जहां कोरोना ने मचा रखा है कोहराम

corona in maharashtra is 5 times more than the whole country punjab is increasing concern in north i

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने शनिवार को शीर्ष 10 जिलों और शहरों की सूची जारी की, जिसमें कहा गया कि देश में कोरोनो वायरस महामारी के वर्तमान 6,58,909 सक्रिय मामलों में महत्वपूर्ण योगदान है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि इन 10 जिलों में से आठ महाराष्ट्र में हैं। राज्य की बात करें तो अकेले महाराष्ट्र का योगदान 59.63 प्रतिशत है।

एक तुलनात्मक विश्लेषण के अनुसार, स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों से पता चला है कि महाराष्ट्र में 3 फरवरी से 3 अप्रैल तक कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या में नौ गुना वृद्धि देखी गई है, जबकि दिल्ली में इसी अवधि के दौरान 10 गुना वृद्धि देखी गई है।

पिछले दो सप्ताह से दैनिक मामलों और मृत्यु दर में बहुत अधिक वृद्धि के कारण केंद्र ने 11 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को 'गंभीर चिंता' के क्षेत्रों के रूप में वर्गीकृत किया है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि इन राज्यों को कोरोना गाइलाइन्स को सख्ती से पालन करवाने के लिए कहा गया है। साथ ही कोरोना परीक्षण भी बढ़ाने की सलाह दी गई है। 

भारत ने शनिवार को कोरोनो वायरस बीमारी के दैनिक मामलों में भारी उछाल दर्ज की है। बीते 24 घंटों में लगभग 90,000 संक्रमण के नए मामले दर्ज किए गए हैं। 

दक्षिण में बेंगलुरु से लेकर उत्तर में दिल्ली तक ये 10 जिले देश में कोरोना के मामलों में 50 प्रतिशत का योगदान करते हैं:

महाराष्ट्र में पुणे सक्रिय मामलों में 10.75 प्रतिशत योगदान देता है।
पुणे से मुंबई का अनुसरण किया जाता है क्योंकि इसमें 8.75 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।
महाराष्ट्र का एक अन्य जिला नागपुर है जिसमें 7.71 प्रतिशत की हिस्सेदारी है।
महाराष्ट्र के ठाणे में 6.83 फीसदी हिस्सेदारी है।
नासिक का योगदान 5.66 फीसदी है।
बेंगलुरु अर्बन में 3.73 फीसदी हिस्सेदारी है।
औरंगाबाद में दो फीसदी हिस्सेदारी है।
दिल्ली में 1.82 फीसदी हिस्सेदारी है।
अहमदनगर का योगदान 1.74 फीसदी है।
महाराष्ट्र में नांदेड़ में 1.67 फीसदी हिस्सेदारी है।

आठ राज्यों से आए कोरोना वायरस के 81.42 प्रतिशत नए मामले
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि आठ राज्यों में कोरोना वायरस के मामलों में तेज़ बढ़ोतरी हुई है और शनिवार को रिपोर्ट कुल मामलों में से 81.42 प्रतिशत नए मरीज इन्हीं प्रदेशों से हैं।  मंत्रालय के मुताबिक, इन आठ राज्यों में, महाराष्ट्र, कर्नाटक, छत्तीसगढ़, दिल्ली, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश, पंजाब और मध्य प्रदेश शामिल हैं।  भारत में इलाजरत मामलों की संख्या बढ़कर 6,58,909 पहुंच गई है और यह कुल मामलों का 5.32 प्रतिशत है। एक दिन में 44,213 इलाजरत मामलों की बढ़ोतरी हुई है। 

महाराष्ट्र में बीते दो महीनों में इलाजरत मरीजों की संख्या में नौ गुना की सबसे अधिक बढ़ोतरी हुई है। प्रतिशत के हिसाब से देखें तो, पंजाब में संक्रमण का इलाज करा रहे मरीजों की संख्या सबसे अधिक बढ़ी है।  देश में कोरोना वायरस के संक्रमण का इलाज करा रहे 77.3 प्रतिशत पांच राज्यों-- महाराष्ट्र, कर्नाटक, छत्तीसगढ़, केरल और पंजाब--में हैं। सिर्फ महाराष्ट्र में ही देश के इलाजरत मामलों का 59.36 फीसदी है। 

मंत्रालय के अनुसार, भारत में शनिवार को कोविड-19 के 89,129 नए मामले आए जो करीब साढ़े छह महीने में सर्वाधिक एकदिनी बढ़ोतरी है। इसके बाद देश में कुल मामले 1.23 करोड़ से अधिक हो गए हैं।  देश में 714 और लोगों की मौत होने के बाद मृतक संख्या 1,64,110 पहुंच गई है। 21 अक्टूबर के बाद एक दिन में सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं।  महाराष्ट्र में एक दिन में सबसे ज्यादा 47,913 मामले आए हैं। इसके बाद कर्नाटक में 4,991 और छत्तीसगढ़ में 4,174 नए मरीजों की पुष्टि हुई है। 

मंत्रालय ने बताया कि महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, पंजाब, कर्नाटक, दिल्ली, तमिलनाडु, मध्य प्रदेश, गुजरात, हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और केरल समेत 12 राज्यों में रोजाना मामले बढ़ रहे हैं। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:From Pune to Delhi these are the 10 districts of the country where Corona has created a furore