ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशकर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री पर दिवाली के दिन लगे बिजली चोरी के आरोप, FIR दर्ज 

कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री पर दिवाली के दिन लगे बिजली चोरी के आरोप, FIR दर्ज 

कांग्रेस पार्टी के आरोपों का जवाब देते हुए कुमारस्वामी ने यह स्वीकार किया कि एक निजी डेकोरेटर ने उनके घर में प्रकाश की व्यवस्था के लिए पास के बिजली पोल से लाइन जोड़कर टेस्ट किया।

कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री पर दिवाली के दिन लगे बिजली चोरी के आरोप, FIR दर्ज 
Himanshu Jhaलाइव हिन्दुस्तान,बेंगलुरु।Wed, 15 Nov 2023 05:53 AM
ऐप पर पढ़ें

कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री और जेडीएस नेता एचडी कुमारस्वामी पर दीपवाली के दिन बिजली चोरी करने के आरोप लगे हैं। उनके खिलाफ मामला भी दर्ज कर लिया गा है। कांग्रेस ने सोशल मीडिया में एक वीडियो जारी किया, जिसमें उन पर अपने घर में दिवाली की रोशनी के लिए अवैध तरीके से बिजली लाइन जोड़ने का आरोप लगाया।

कांग्रेस पार्टी के आरोपों का जवाब देते हुए कुमारस्वामी ने यह स्वीकार किया कि एक निजी डेकोरेटर ने उनके घर में प्रकाश की व्यवस्था के लिए पास के बिजली पोल से लाइन जोड़कर टेस्ट किया। उन्होंने कहा, "मुझे इसका एहसास तब हुआ जब मैं घर लौटा। मैंने तुरंत इसे हटा दिया। यह सुनिश्चित किया कि बिजली घर के कनेक्शन से ली जाए।"

बैंगलोर इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई कंपनी लिमिटेड की सतर्कता विंग द्वारा एक शिकायत के बाद भारतीय विद्युत अधिनियम की धारा 135 (बिजली की चोरी) के तहत उनके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।

कर्नाटक कांग्रेस ने एक वीडियो शैयर किया। वीडिये में एक तार दिखाई दे रही है, जो कुमारस्वामी के जेपी नगर स्थित आवास की छत से फैली हुई है। बिजली का कनेक्शन सड़क के पार एक बिजली पोल से जोड़ा गया था। कर्नाटक कांग्रेस ने कहा, “यह एक त्रासदी है कि एक पूर्व मुख्यमंत्री ने बिजली चोरी का सहारा लिया है। क्या आपने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके नहीं कहा था कि कर्नाटक अंधेरे में है, लेकिन अब आपने चोरी की बिजली से अपना घर रोशन कर लिया है। जब आपका घर इतना चमक रहा है तो आप क्यों कहते हैं कि कर्नाटक अंधेरे में है?”

कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि वह इस मामले में बिजली अधिकारियों द्वारा जांच के लिए तैयार हैं। अगर उन्हें नोटिस दिया जाता है तो वह स्वेच्छा से जुर्माना अदा करेंगे।

कुमारस्वामी पर पलटवार करते हुए कांग्रेस ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री होने के नाते उन्हें बिजली चोरी के मामले को महत्वहीन बनाने के लिए शर्मिंदा होना चाहिए।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें