DA Image
7 अगस्त, 2020|2:29|IST

अगली स्टोरी

देश के पूर्व अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने TikTok का केस लड़ने से किया इनकार, बोले- चाइनीज ऐप का नहीं रखेंगे पक्ष

former attorney general of india mukul rohatgi  refuses to appear for tik tok in court

भारत सरकार ने मंगलवार को एक अहम फैसला लेते हुए 59 चाइनीज ऐप को बैन कर दिया है। इनमें टिकटॉक भी शामिल है। इस बीच भारत के पूर्व अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने टिकटॉक का केस लड़ने से इनकार कर दिया है। उन्होंने कहा, 'मैं एक चाइनीज ऐप के लिए भारत सरकार के खिलाफ खड़ा नहीं होउंगा।' 

इससे पहले सरकार ने मंगलवार (30 जून) को सभी इंटरनेट सेवा प्रदाता कंपनियों को प्रतिबंधित 59 चीनी मोबाइल ऐप पर तत्काल रोक लगाने के निर्देश जारी कर दिए। सूत्रों ने बताया कि सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम के आपातकालीन उपबंध के तहत सरकार ने ये निर्देश जारी किए हैं। पहली सूची में 35 ऐप का नाम है और दूसरी सूची में 24 ऐप का नाम है।

ये भी पढ़ें- अपने 59 ऐप पर बैन से बौखलाया चीन, दे रहा है WTO नियमों की दुहाई

टिकटॉक की सफाई- दूसरे देश संग साझा नहीं करते यूजर का डाटा
केंद्र सरकार के आदेश के बाद गूगल प्ले और एप्पल स्टोर से टिकटॉक को हटा दिया गया है। टिकटॉक उन 59 चाइनीज ऐप में शामिल है, जिसे भारत में बैन कर दिया गया है। इस मामले पर टिकटॉक ने बयान जारी करते हुए कहा कि हम किसी भी देश के साथ किसी भी यूजर का डाटा शेयर नहीं करते हैं। चाहे वह चीन ही क्यों न हो।

चीन से जुड़े 59 ऐप पर भारत में प्रतिबंध
भारत ने सोमवार को 59 ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया था, जिसमें बेहद लोकप्रिय टिकटॉक और यूसी ब्राउजर भी शामिल हैं। ये प्रतिबंध लद्दाख क्षेत्र में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर चीनी सैनिकों के साथ मौजूदा तनावपूर्ण स्थितियों के बीच लगाए गए हैं। प्रतिबंधित सूची में वीचैट, बीगो लाइव, हैलो, लाइकी, कैम स्कैनर, वीगो वीडियो, एमआई वीडियो कॉल- शाओमी, एमआई कम्युनिटी, क्लैश ऑफ किंग्स के साथ ही ई कॉमर्स प्लेटफॉर्म क्लब फैक्टरी और शीइन शामिल हैं।

आईटी मंत्रालय ने सोमवार  को जारी एक आधिकारिक बयान में कहा कि उसे विभिन्न स्रोतों से कई शिकायतें मिली हैं, जिनमें एंड्रॉयड और आईओएस प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध कुछ मोबाइल ऐप के दुरुपयोग के बारे में कई रिपोर्ट शामिल हैं। इन रिपोर्ट में कहा गया है कि ये ऐप उपयोगकर्ताओं के डेटा को चुराकर, उन्हें गुपचुक तरीके से भारत के बाहर स्थित सर्वर को भेजते हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:former Attorney General of India Mukul Rohatgi refuses to appear for Tik Tok in court