DA Image
26 फरवरी, 2020|12:13|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अप्रैल से खुलेगा RSS का सैनिक स्कूल, शहीदों के बच्चों को मिलेगा आरक्षण

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में बने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के पहले सैनिक स्कूल में इसी साल अप्रैल महीने से पढ़ाई शुरू हो जाएगी। इस सैनिक स्कूल को 1994 से 2000 तक संघ के सरसंघचालक रहे रज्जू भैया के नाम से जाना जाएगा। रज्जू भैया सैनिक विद्या मंदिर (RBSVM) में शहीदों के बच्चों के लिए आरक्षण की व्यवस्था की गई है।

संघ के एक वरिष्ठ पदाधिकारी के मुताबिक, स्कूल का भवन बनकर तैयार हो गया है। छठी कक्षा के पहले बैच के 160 छात्रों के लिए आवेदन मंगाने की प्रकिया शुरू कर दी गई है।

रज्जू भैया सैनिक विद्या मंदिर के डायरेक्टर कर्नल शिव प्रताप सिंह ने कहा, 'हम छात्रों को एनडीए परीक्षा के लिए तैयार करेंगे। एडमिशन के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया 23 फरवरी तक चलेगी। एक मार्च को प्रवेश परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। रिजनिंग, सामान्य ज्ञान, गणित और अंग्रेजी के जरिए छात्रों की योज्ञता की परख की जाएगी। लिखित परीक्षा के बाद इंटरव्यू लिया जाएगा।'

शहीदों के बच्चों को मिलेगा आरक्षण
उन्होंने यह भी बताया कि शहीदों के बच्चों के लिए आठ सीट सुरक्षित रखी जाएगी। साथ ही उन्हें अधिकतम उम्र में छूट भी दी जाएगी। इसके अलावा इस स्कूल में किसी तरह का आरक्षण का प्रावधान नहीं होगा। संघ के इस सैनिक स्कूल में सीबीएसई पैटर्न पर छात्रों की शिक्षा दी जाएगी।

रज्जू भैया सैनिक विद्या मंदिर के लिए शिक्षकों और नॉन टिचिंग स्टाफ की नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। फरवरी के अंत तक इस काम को पूरा कर लिया जाएगा। इस सैनिक स्कूल के प्रिंसिपल आरएसएस के विद्या भारती से होंगे। 

छात्रों और शिक्षकों के लिए ड्रेस कोड
छात्रों और शिक्षकों के लिए ड्रेस कोड होगा। छात्रों के लिए ब्लू शर्ट और डार्क ब्लू पैंट तो शिक्षकों के लिए सफेद शर्ट और ग्रे कलर का पैंट होगा। यह सैनिक स्कूल पूरी तरह से आवासीय होगा। संघ के पदाधिकारी ने बताया कि इस सैनिक स्कूल का लक्ष्य छात्रों को शिक्षा के साथ-साथ नैतिक और आध्यात्मिक मार्गदर्शन देना है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:First RSS Army school to begin from April in UP reservation facility for wards of martyrs