DA Image
21 अक्तूबर, 2020|7:49|IST

अगली स्टोरी

आज फिर ED दफ्तर पहुंचे फारुख अब्दुल्ला, 43 करोड़ के घोटाले के आरोप में होगी पूछताछ

farooq abdullah called all parties to come together for release of detainees leader from jammu and k

जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला आज एकबार फिर श्रीनगर के राज बाग स्थित प्रवर्तन निदेशालय के दफ्तर पहुंचे हैं, जहां उनसे कथित रूप से 43 करोड़ रुपये की हेराफेरी के आरोप में पूछताछ हो सकती है। आपको बता दें कि भ्रष्टाचार का यह मामला जम्मू-कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन कहा, जिस समय वे अध्यक्ष हुआ करते थे।

फारुख अब्दुल्ला से इससे पहले भी श्रीनगर में ईडी के अधिकारियों के द्वारा पूछताछ की गई थी। 

इस मामले में फारुख अब्दुल्ला के बेटे उमर अब्दुल्ला ने कहा था, 'पार्टी शीघ्र ही इस ईडी सम्मन का जवाब देगी। यह पीपुल्स अलायंस के गुप्कर घोषणा के बाद आने वाले दिनों में राजनीतिक प्रतिशोध से कम नहीं है। डॉ. साहब के आवास पर सीधे छापे नहीं मारे जा रहे हैं।'

जौनपुर में फारुख अब्दुल्ला पर राजद्रोह का मुकदमा दर्ज
उत्तर प्रदेश के जौनपुर में जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाए जाने के बाद देशविरोधी बयान पर अरुण कुमार सिंह ने पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला के खिलाफ राजद्रोह का मुकदमा दर्ज किया है। मामले में सुनवाई के लिए पांच दिसंबर की तारीख मुकर्रर की गई है। 

नगर कोतवाली क्षेत्र निवासी अरुण कुमार सिंह ने सीजेएम कोर्ट में अधिवक्ता रणंजय सिंह के माध्यम से मुकदमा दर्ज कराया कि जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने 11 अक्टूबर को अनुच्छेद 370 व 35ए के संबंध में कहा कि इन दोनों धाराओं की बहाली में चीन से मदद मिल सकती है। कहा था कि जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाना कबूल नहीं है। जब तक यह बहाल नहीं होता तब तक वे रुकने वाले नहीं हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Farooq Abdullah reaches Enforcement Directorate office over alleged misappropriation of Rs 43 crores