DA Image
23 फरवरी, 2020|1:01|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चीन पर नजर, भारत ने पहली बार दक्षिण में तैनात किया लड़ाकू विमान सुखोई

the su-30mki fighters in thanjavur are being equipped with the air launched version of the brahmos s

भारत ने सामरिक तौर पर बेहद महत्वपूर्ण हिन्द महासागर क्षेत्र में अपनी क्षमता को और बढ़ाते हुए दक्षिण भारत में पहली बार सुखोई-30 लड़ाकू विमान तैनात किया है। ताकि, आवश्यकता पड़ने पर किसी भी दुस्साह का फौरन मुंहतोड़ जवाब दिया जा सके।

हिन्द महासागर में चीन तेजी के साथ अपनी मौजूदगी को बढ़ा रहा है। जिसे देखते हुए भारतीय वायुसेना ने तमिलनाडु के थंजावुर वायुसेना स्टेशन पर पर सुखोई-30एमकेआई का पहला स्क्वाड्रन तैनात किया।

इस लड़ाकू विमान को अद्यतन किया गया है और यह ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइलें भी ले जाने में सक्षम है। एक रक्षा विज्ञप्ति के अनुसार इस नए स्क्वाड्रन से भारतीय वायुसेना की वायु रक्षा क्षमता बढ़ेगी और सामरिक रूप से महत्वपूर्ण हिंद महासागर क्षेत्र में निगरानी सुनिश्चित हो सकेगी।

इस मौके पर प्रमुख रक्षा अध्यक्ष बिपिन रावत, वायुसेना प्रमुख राकेश कुमार सिंह भदौरिया सहित अन्य शीर्ष अधिकारी मौजूद थे। आधुनिक तकनीकों से लैस यह विमान सभी मौसम में वृहद भूमिका निभाने में सक्षम है।

ये भी पढ़ें: और ज्यादा ताकतवर होगी वायु सेना, सरकार खरीदेगी 200 फाइटर जेट

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Eyeing China India deploys Sukhoi for the first time in the South