ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशपरिवार की सेवा करके नहीं मिला पद, विदेश मंत्री जयशंकर का कांग्रेस को जवाब

परिवार की सेवा करके नहीं मिला पद, विदेश मंत्री जयशंकर का कांग्रेस को जवाब

वे कांग्रेस नेता जयराम की एक टिप्पणी की जवाब दे रहे थे। दरअसल जयशंकर पर निशाना साधते हुए जयराम रमेश ने पिछले महीने कहा था कि उन्होंने 'अपनी बौद्धिक ईमानदारी और निष्पक्षता' को खो दिया है।

परिवार की सेवा करके नहीं मिला पद, विदेश मंत्री जयशंकर का कांग्रेस को जवाब
Amit Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 05 Feb 2024 02:46 PM
ऐप पर पढ़ें

कांग्रेस पार्टी पर तंज कसते हुए विदेश मंत्री एस जयशंकर ने सोमवार को कहा कि उन्होंने 'सरकार के लिए काम किया है नाकि किसी परिवार के लिए।' वे कांग्रेस नेता जयराम रमेश की एक टिप्पणी का जवाब दे रहे थे। दरअसल जयशंकर पर निशाना साधते हुए जयराम रमेश ने पिछले महीने कहा था कि उन्होंने 'अपनी बौद्धिक ईमानदारी और निष्पक्षता' को खो दिया है। 

अब इंडिया टुडे से बातचीत में विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा, "हम सरकार के लिए काम करते हैं। हमने एक परिवार के लिए काम नहीं किया। मुझे लगता है कि सरकार के लिए काम करने वाले ज्यादातर लोग चाहेंगे कि वे अपना पद खुद अर्जित करें। लेकिन जो लोग एक परिवार के लिए काम करते हैं, वे यही सोचते हैं कि बाकी सभी लोग भी उसी एक परिवार के लिए काम करें।"

मंत्री ने कहा कि उन्होंने अपना पद खुद "अर्जित" किया है और ये किसी "एक परिवार की सेवा से नहीं मिला" है। इससे पहले 4 जनवरी को एक्स पर अपने पोस्ट में, कांग्रेस पार्टी के महासचिव और संचार प्रभारी जयराम रमेश ने जयशंकर पर "प्रधानमंत्री को अधिक खुश करने के लिए नेहरू की आलोचना" करने का आरोप लगाया था।

जयराम रमेश ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर कहा, "मैं हर बार जब भी विदेश मंत्री के नेहरू पर दिए गए बयानों को पढ़ता हूं, तो मुझे सिर्फ इतना याद आता है कि वह अपनी अच्छी पोस्टिंग के लिए नेहरूवादियों के आसपास कितनी परिक्रमा करते थे। मैं समझ सकता हूं कि उन्हें प्रधानमंत्री के साथ खुद को और अधिक जोड़ने के लिए नेहरू को कोसना पड़ता है। लेकिन ऐसा करने के लिए उन्होंने अपनी बौद्धिक ईमानदारी और निष्पक्षता खो दिया है। मुझे पता था कि वह उन लोगों के सामने झुक जाएंगे। लेकिन अब वह उनके इशारों पर चल रहे हैं। यह बहुत दुख की बात है कि ईमानदारी रखने वाले लोग कम होते जा रहे हैं।"

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें