DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

EMISAT MISSION: पीएसएलवी-सी45 मिशन के लिए उलटी गिनती शुरू

 photo by ravindra joshi ht photo  ht photo

श्रीहरिकोटा से भारत के एमिसैट (ईएमआईएसएटी) उपग्रह को प्रक्षेपित करने के लिए रविवार को 27 घंटों की उलटी गिनती शुरू हो गई। सोमवार को एमिसैट के साथ ही 28 विदेशी नैनो उपग्रह भी प्रक्षेपित किए जाएंगे।

इस मिशन के तहत पहली बार इसरो पृथ्वी की तीन कक्षाओं में उपग्रह स्थापित कर अंतरिक्ष संबंधी प्रयोग करेगा। एमिसैट उपग्रह का मकसद विद्युतचुंबकीय माप लेना है। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने बताया कि प्रक्षेपण की उलटी गिनती सुबह छह बजकर 27 मिनट पर शुरू हो गई थी। 

एजेंसी के अधिकारियों ने बताया कि चार चरणों वाला पीएसएलवी-सी45 श्रीहरिकोटा के अंतरिक्ष केंद्र के दूसरे लॉन्चपैड से सोमवार को सुबह नौ बजकर 27 मिनट पर प्रक्षेपित किया जाएगा। 

इस मिशन के जरिये अंतरिक्ष एजेंसी के हिस्से में कई पहली चीजों का श्रेय आएगा जहां वह विभिन्न कक्षाओं में उपग्रह स्थापित करेगी और समुद्री उपग्रह अनुप्रयोगों समेत कई अन्य पर कक्षीय प्रयोग करेगी। 

PM मोदी ने बताया, आखिर क्यों बालाकोट पर ही हमले का फैसला लिया गया

MI-17 हेलीकॉप्टर दुर्घटना की सभी पहलुओं से जांच, 6 स्टाफ की हुई थी मौत

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:EMISAT MISSION PSLV-C 45 missions begin countdown