ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देश Election Results 2023: चुनाव हारे तो कांग्रेस को आई INDIA की याद, खरगे बोले- 2024 में साथ मिलकर चलेंगे

Election Results 2023: चुनाव हारे तो कांग्रेस को आई INDIA की याद, खरगे बोले- 2024 में साथ मिलकर चलेंगे

Election Results 2023: खरगे ने कहा कि उनका दल इन राज्यों में खुद को मजबूत करेगा और विपक्षी गठबंधन 'इंडिया' के घटक दलों के साथ मिलकर अगले लोकसभा चुनाव के लिए अपने आपको तैयार करेगा।

 Election Results 2023: चुनाव हारे तो कांग्रेस को आई INDIA की याद, खरगे बोले- 2024 में साथ मिलकर चलेंगे
Niteesh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 03 Dec 2023 05:12 PM
ऐप पर पढ़ें

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान के विधानसभा चुनाव में पार्टी की हार पर निराशा जताई है। उन्होंने रविवार को कहा कि उनका दल इन राज्यों में खुद को मजबूत करेगा और विपक्षी गठबंधन 'इंडिया' के घटक दलों के साथ मिलकर अगले लोकसभा चुनाव के लिए अपने आपको तैयार करेगा। उन्होंने तेलंगाना में कांग्रेस की जीत के लिए मतदाताओं का आभार जताया। खरगे ने एक्स पर पोस्ट किया, 'भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पर विश्वास और भरोसा जताने के लिए मैं तेलंगाना के मतदाताओं का धन्यवाद करता हूं।'

मल्लिकार्जुन खरगे ने अपनी पोस्ट में आगे कहा, 'मैं उन सभी का भी धन्यवाद करता हूं जिन्होंने हमें छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और राजस्थान में वोट दिया। ये चुनाव परिणाम हमारी उम्मीदों के हिसाब से नहीं रहे हैं, लेकिन हमें विश्वास है कि हम मेहनत और दृढ़ निश्चय से मजबूती से वापसी करेंगे।' उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने पूरे दम-खम के साथ इन चार राज्यों के चुनाव में भाग लिया। मैं अपने अनगिनत कार्यकर्ताओं के प्रति भी आभार जता रहा हूं।

खरगे को आई इंडिया गठबंधन की याद
तीन राज्यों चुनाव हारने पर खरगे को INDIA गठबंधन की भी याद आई। उन्होंने कहा, 'हमें इस हार से हताश हुए बगैर इंडिया के घटक दलों के साथ दोगुने जोश से लोकसभा चुनाव की तैयारी में लग जाना है।' बता दें कि भाजपा भारी बहुमत से मध्य प्रदेश की सत्ता में वापसी की ओर बढ़ रही है। राजस्थान और छत्तीसगढ़ में वह कांग्रेस को सत्ता से बेदखल करने के करीब है। इन चुनावों में कांग्रेस के लिए राहत सिर्फ तेलंगाना से मिल रही है जहां उसके भारी बहुमत से सरकार बनाने की प्रबल संभावना है। आगामी लोकसभा चुनाव से पहले तीन हिंदी भाषी राज्यों में जीत ने जहां भाजपा में नए सिरे से उत्साह भर दिया है, वहीं कांग्रेस के लिए यह चुनाव किसी भारी झटके से कम नहीं है क्योंकि वह पार्टी शासित 2 राज्य भाजपा के हाथों गंवाने जा रही है।

राजस्थान, एमपी और छत्तीसगढ़ में जीत की ओर BJP
राजस्थान में भी भाजपा सत्तारूढ़ कांग्रेस से काफी आगे है। यहां की जनता पिछले तीन दशक से हर चुनाव में सरकार बदलती रही है। अभी तक के नतीजों और रुझानों से स्पष्ट है कि इस बार भी यह रिवाज कायम रहेगा। मध्य प्रदेश की 230 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा 10 सीट जीत चुकी है और 156 सीट पर आगे है। वह भारी बहुमत के साथ सत्ता में फिर से वापसी करती दिख रही है। कांग्रेस अब तक तीन सीट जीत चुकी है और 60 सीट पर उसके उम्मीदवारे आगे हैं। वहीं, छत्तीसगढ़ के गठन के बाद इस राज्य में हुए विधानसभा चुनावों में पहली बार भाजपा सबसे बड़ी जीत की ओर अग्रसर है। BJP ने राज्य विधानसभा चुनाव के लिए रविवार को हो रही मतगणना में 54 सीट पर बढ़त बना ली है। अगर यह बढ़त परिणाम में तब्दील होती है, तो यह 2000 में राज्य गठन के बाद से हुए विधानसभा चुनावों में भाजपा की अब तक की सबसे बड़ी जीत होगी। 
(एजेंसी इनपुट के साथ)

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें