ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशPune Road Accident Case: पुणे केस में ड्राइवर को फंसाने की हो रही कोशिश, पुलिस का बड़ा दावा

Pune Road Accident Case: पुणे केस में ड्राइवर को फंसाने की हो रही कोशिश, पुलिस का बड़ा दावा

Pune Accident: पुलिस आयुक्त ने इस बात का खंडन कर दिया था कि कार ड्राइवर चला रहा था। कुमार का कहना है कि उनके पास वीडियो फुटेज है, जो साबित करती है कि लग्जरी कार 17 साल का नाबालिग चला रहा था।

Pune Road Accident Case: पुणे केस में ड्राइवर को फंसाने की हो रही कोशिश, पुलिस का बड़ा दावा
Nisarg Dixitलाइव हिन्दुस्तान,पुणेFri, 24 May 2024 01:16 PM
ऐप पर पढ़ें

पुणे सड़क हादसा मामले में पुलिस ने शुक्रवार को बड़ा दावा किया है। पुलिस का कहना है कि इस मामले में ड्राइवर को फंसाने की कोशिश की जा रही है। पुलिस पहले ही कोर्ट को ड्राइवर के बयान के आधार पर बता चुकी है कि घटना की रात को आरोपी नाबालिग ही वाहन चला रहा था। रविवार को कल्याणीनगर में हुई घटना में दो लोगों की मौत हो गई थी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुलिस आयुक्त अमितेश कुमार ने कहा कि यह देखा जाना है कि ड्राइवर पर कौन दबाव बना रहा है। उन्होंने कहा, 'यह सच है कि शुरुआत में ड्राइवर ने कहा था कि वह गाड़ी चला रहा था। हम इस बात की भी जांच कर रहे हैं कि किसके दबाव में ड्राइवर ने वो बयान दिया था। हम इसकी जांच कर रहे हैं।'

खास बात है कि पुलिस आयुक्त ने इस बात का खंडन कर दिया था कि कार ड्राइवर चला रहा था। कुमार का कहना है कि उनके पास वीडियो फुटेज है, जो साबित करती है कि लग्जरी कार 17 साल का नाबालिग चला रहा था। हाल ही में उन्होंने यह भी कहा था कि आरोपी नाबालिग की ब्लड रिपोर्ट में शराब की मात्रा मापने वाली जांच की रिपोर्ट जरूरी नहीं है। उन्होंने कहा थी कि वे मजबूत केस तैयार कर रहे हैं।

शुक्रवार को कुमार ने कहा, 'हमारे पास पब में उसके शराब पीने की सीसीटीवी फुटेज है। यह कहना कि हमारा केस सिर्फ ब्लड रिपोर्ट पर निर्भर नहीं है, इसका मतलब है कि हमारे पास अन्य सबूत भी हैं। वह (नाबालिग आरोपी) अपने पूरे होश में था। ऐसा नहीं था कि वे इतने नशे में थे कि वे कुछ भी समझ नहीं सकते थे। उन्हें पूरी जानकारी थी कि उनकी हरकतों से धारा 304 कैब जैसी घटना हो सकती थी।'