DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ED नीलाम करेगी नीरव मोदी की पेंटिंग और कीमती कार, स्पेशल कोर्ट ने दी इजाजत

Nirav Modi, 48, is currently living in a three-bedroom flat occupying half of a floor of the landmar

1 / 2Nirav Modi, 48, is currently living in a three-bedroom flat occupying half of a floor of the landmark Centre Point tower block, where rent is estimated to cost 17,000 pounds a month, The Telegraph reported.(Mint)

2 / 2Nirav Modi

PreviousNext

मुंबई की धनशोधन मामले की विशेष अदालत ने बुधवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को भगोड़े नीरव मोदी की कीमती पेटिंग और कारों की नीलामी की अनुमति दे दी। नीरव मोदी को देर रात ब्रिटेन में गिरफ्तार भी किया गया है। ईडी के विशेष अधिवक्ता एच एस वेनेगांवकर ने धनशोधन निरोधक कानून (पीएमएलए) की विशेष अदालत के न्यायाधीश सलमान आजमी को बताया कि आयकर विभाग नीरव मोदी के कलासंग्रह की नीलामी की प्रक्रिया की अनुमति दे सकता है। ये कलाकृतियां हाल ही में जांच एजेंसी ने जब्त की थी और कहा था कि  नीलामी से मिलने वाले धन को न्यायालय में जमा करना होगा।

प्रवर्तन निदेशालय और आयकर विभाग नीरव मोदी की 173 पेंटिंग और रॉल्स रॉयस, पोर्श, मर्सिडीज और टोयोटा फोर्च्युनर जैसे 11 वाहनों की नीलामी करेगा। पेंटिंग की कीमत 57.72 करोड़ रुपये आंकी गयी है। आयकर विभाग ने 68 पेंटिंग को नीलाम करने की अनुमति के लिए अदालत का रुख किया था। अदालत ने ईडी की अनापत्ति के बाद ऐसा करने की इजाजत प्रदान कर दी। बाकी पेंटिंग की नीलामी प्रवर्तन निदेशालय करेगा। अधिकारियों ने बताया कि पेंटिंग और गाड़ियों की नीलामी से जुटायी गयी राशि सरकारी खजाने में जमा की जाएगी।

लंदन में गिरफ्तार नीरव मोदी को जमानत नहीं, 29 मार्च को अगली सुनवाई

न्यायालय ने यह दलील स्वीकार कर ली। ईडी ने हाल ही में नीरव  मोदी की 147 करोड़ रुपये कीमत की संपत्तियों को पीएमएलए के तहत कुर्क किया था। नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चौकसी पंजाब नेशनल बैंक के 13 हजार करोड़ रुपये के घोटाले के आरोपी हैं।  नीरव मोदी की कलाकृतियों के संग्रह में जाने माने चित्रकार एम. एफ. हुसैन, के के हेबर, अंजोलिया ईला मेनन और नंद लाल बोस आदि की पेंटिंग शामिल हैं।

हीरा कारोबारी नीरव मोदी लंदन में गिरफ्तार
भारत से फरार होने के 40 महीने बाद हीरा कारोबारी नीरव मोदी को पंजाब नेशनल बैंक(पीएनबी) से 13,500 करोड़ रुपये के ऋण धोखाधड़ी मामले में बुधवार को लंदन में गिरफ्तार किया गया। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी। पुलिस ने लंदन में नीरव मोदी को गिरफ्तार किया। इससे सात दिन पहले लंदन वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने उसके खिलाफ वारंट जारी किया था। मोदी 2018 में घोटाले के सामने आने से कुछ महीने पहले ही भारत से फरार हो गया था। उसे दिन में एक अदालत के समक्ष पेश किया जाएगा। इंटरपोल ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के आग्रह पर जुलाई 2018 में नीरव मोदी के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया था।

भगोड़े कारोबारी के ठिकानों के बारे में एक रहस्य बना हुआ था, क्योंकि उसे न्यूयॉर्क, हांगकांग और अन्य शहरों में देखा गया था। अपने चाचा मेहुल चोकसी के साथ नीरव मोदी पीएनबी घोटाले में सीबीआई द्वारा जांच शुरू होने से पहले ही भाग गया था। ईडी ने पिछले वर्ष 24 और 25 मई को दोनों के खिलाफ आरोपपत्र दाखिल किया था और दोनों के खिलाफ गैर जमानती वारंट भी जारी किया गया था। कुछ दिन पहले ब्रिटेन के द टेलीग्राफ अखबार ने दावा किया था कि मोदी को लंदन में देखा गया है और वह यहां तीन बेडरूम के एक फ्लैट में रह रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ED auction 173 paintings 11 vehicles of Nirav Modi