ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशमहादेव ऐप प्रमोटर्स के करीबी सहयोगी को ED ने किया गिरफ्तार, न्यायिक हिरासत में भेजा गया

महादेव ऐप प्रमोटर्स के करीबी सहयोगी को ED ने किया गिरफ्तार, न्यायिक हिरासत में भेजा गया

आरोप है कि ऐप के प्रमोटरों सौरभ चंद्राकर और रवि उप्पल ने आरोपियों को गिरफ्तार नहीं करने के लिए छत्तीसगढ़ के एक शीर्ष राजनेता और पुलिस अधिकारियों को सैकड़ों करोड़ रुपये की रिश्वत दी।

महादेव ऐप प्रमोटर्स के करीबी सहयोगी को ED ने किया गिरफ्तार, न्यायिक हिरासत में भेजा गया
Himanshu Jhaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्ली।Sat, 17 Feb 2024 10:16 AM
ऐप पर पढ़ें

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने महादेव सट्टेबाजी ऐप मामले में एक और आरोपी को गिरफ्तार किया है। ईडी इस मामले में अबतक नौ लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। ईडी ने एक बयान में कहा कि नीतीश दीवान को रायपुर में धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के तहत गिरफ्तार गया और एक विशेष अदालत ने उन्हें 24 फरवरी तक ईडी की हिरासत में भेज दिया। 

ईडी ने इससे पहले कोलकाता निवासी नितिन टिबरेवाल, रायपुर स्थित अमित अग्रवाल, कैश कूरियर असीम दास, पुलिस कांस्टेबल भीम सिंह यादव, सहायक उप-निरीक्षक चंद्रभूषण वर्मा, अनिल दम्मानी, सुनील दम्मानी को गिरफ्तार किया था।

महादेव ऐप ईडी की जांच के केंद्र में है। आरोप लगाया गया है कि ऐप के प्रमोटरों सौरभ चंद्राकर और रवि उप्पल ने आरोपियों को गिरफ्तार नहीं करने के लिए छत्तीसगढ़ के एक शीर्ष राजनेता और पुलिस अधिकारियों को सैकड़ों करोड़ रुपये की रिश्वत दी। एजेंसी ने यह भी कहा कि मामले के आरोपियों ने हजारों करोड़ रुपये की गलत कमाई की है।

यह भी आरोप लगाया गया था कि दीवान के संयुक्त अरब अमीरात में बैंक खाते थे और वह इन खातों को फंडिंग के लिए संचालित करता था। उनके नाम से यूएई में भी कंपनियां स्थापित की गईं और उन्होंने दुबई में काम करने वाले महादेव ऑनलाइन बुक के कर्मचारियों को वीजा सेवाएं प्रदान कीं। अधिकारियों ने कहा कि कंपनियों का इस्तेमाल सट्टेबाजी से अवैध कमाई के लिए भी किया जा रहा था।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें