DA Image
30 मई, 2020|11:31|IST

अगली स्टोरी

लॉकडाउन में नो रेंट: मजदूरों-छात्रों से घर खाली करने को कहने पर होगा एक्शन

people gathered at anand vihar

कोरोना वायरस के चलते देश में 21 दिनों के लॉकडाउन के बीच हजारों लोग लगातार अपने गृह जिलों की ओर पलायन कर रहे हैं। ऐसे में केन्द्र ने लॉकडाउन के नियमों का सख्ती से पालने करने का राज्य सरकारों को निर्देश दिया है। गृह मंत्रालय की तरफ से यह कहा गया कि वे आवश्यक सामानों की आपूर्ति सुनिश्चित करने के साथ ही गरीब और जरूरतमंदों के खाने-पीने और उऩके रहने का बंदोबस्त करे। केन्द्र की तरफ से यह भी कहा गया कि लगातार स्थिति की निगरानी की जा रही है और आवश्यकता पड़ने पर जरूरी कदम भी उसके लिए उठाए जा रहे हैं।

मकान मालिक नहीं मांग सकता किराया

गृह मंत्रालय की तरफ से रविवार (29 मार्च) को जारी निर्देशों के मुताबिक, "लॉकडाउन के अवधि के दौरान किसी भी राज्य या फिर केन्द्र शासित प्रदेश में कोई भी मकान मालिक उनके यहां रह रहे श्रमिकों से किराया नहीं मांग सकते और न ही उन्हें घर खाली करने को मजबूर कर सकते हैं। ऐसे मकान मालिकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी जो श्रमिकों या फिर छात्रों को जबरदस्ती मकान खाली करने को कहेंगे।"

इसके साथ ही, गृह मंत्रालय की तरफ से राज्य सरकारों को यह निर्देश दिया गया है कि लॉकडाउन की अवधि के दौरान की उनकी मजदूरी (वेतन) को बिना किसी कटौती के समय पर भुगतान सुनिश्चित करें।

ये भी पढ़ें: कोरोना से देश में अब तक 25 की मौत, पॉजिटिव केसों की संख्या 979 हुई

दिल्ली सीएम केजरीवाल ने भी मकान मालिकों से अपील

इससे पहले, राजधानी में लॉकडाउन के बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के मकान मालिकों से अपील की थी कि वे अपने किराएदारों से फौरन किराया देने को मजबूर न करें। केजरीवाल ने कहा कि मकान मालिक चाहें तो वे दो महीने बाद किराया ले सकते हैं या फिर उनसे किश्तों में ले सकते हैं।

केजरीवाल ने कहा कि इस वक्त काफी कठिन समय है, ऐसी स्थिति में हम सभी को मदद करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि नाइट शेल्टर्स में खाना बांटने का काम किया है। घर में खान नहीं है तो ऐसे लोग किसी भी नाइट शेल्टर्स में खाना खा सकते हैं। दिल्ली सीएम ने कहा कि रैन बसेरों की संख्या बढ़ाई जा रही है। इसके साथ ही, खाने के डिस्ट्रीब्यूशन की जगहें भी बढ़ाई जा रही है।

ये भी पढ़ें: कोरोना लॉकडाउन के बीच पलायन कर घर पहुंचने वालों को रखा जाएगा अलग

पिछले 24 घंटे में कोरोना से 25 की मौत

भारत में कोरोना वायरस को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी अपडेटेड आंकड़े के मुताबिक, देश में अब तक कोविड-19 के 979 मामले सामने आए हैं, जिनमें 25 लोगों की मौत भी शामिल हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि पिछले 24 घंटे में कोरोना के 106 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं और 6 मौतों की पुष्टि हुई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने अपने बयान में कहा कि हम ऐसे स्थानों की पहचान कर रहे हैं, जहां मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:During lockdown the landlord can neither ask the workers for rent nor can they vacate