DA Image
हिंदी न्यूज़ › देश › ड्रग्स और हथियार भेजने के लिए अंतरराष्ट्रीय सीमा पर किया जा रहा है ड्रोन्स का इस्तेमाल- NSG
देश

ड्रग्स और हथियार भेजने के लिए अंतरराष्ट्रीय सीमा पर किया जा रहा है ड्रोन्स का इस्तेमाल- NSG

लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीPublished By: Nootan Vaindel
Sat, 17 Oct 2020 07:18 AM
ड्रग्स और हथियार भेजने के लिए अंतरराष्ट्रीय सीमा पर किया जा रहा है ड्रोन्स का इस्तेमाल- NSG

राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी)  के महानिदेशक एसएस देसवाल ने कहा कि सीमा पार से हथियार और ड्रग्स छोड़ने के लिए ड्रोन का इस्तेमाल किया जा रहा है, हालांकि, हमारी सुरक्षा एजेंसियों के पास खतरे को बेअसर करने की क्षमता है। शुक्रवार को देसवाल ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा, “पश्चिमी सीमा पर ड्रोन का होना एक सुरक्षा खतरा हैं। क्योंकि उनका उपयोग अंतरराष्ट्रीय सीमा से हथियारों और ड्रग्स को ड्रॉप करने के लिए किया जा रहा है। हमारे पास उन्हें पहचानने और बेअसर करने की प्रणाली है।”

यह भी पढ़ें- ISIS के इशारे पर सोशल मीडिया के जरिए देश में आतंक फैलाने की रचते थे साजिश, अदालत ने 15 आतंकियों को सुनाई सजा
शुक्रवार को देश के प्रमुख सुरक्षा बलों में से एक, एनएसजी के 36 वें स्थापना दिवस को भी चिन्हित किया गया। एनएसजी आतंकवाद विरोधी गतिविधियों से निपटने के लिए संघीय आकस्मिक बल है। NSG विशिष्ट स्थिति से निपटने के लिए सुसज्जित और प्रशिक्षित एक बल है और इसलिए इसका उपयोग असाधारण परिस्थितियों में आतंकवाद के गंभीर कार्यों को विफल करने के लिए किया जाता है। देसवाल पहले से ही भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP) के महानिदेशक थे, पिछले महीने ही उनको केंद्र द्वारा NSG के डीजी का अतिरिक्त प्रभार दिया गया था।

संबंधित खबरें