ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशसिद्धारमैया जाएंगे, डीके शिवकुमार आएंगे? चेतावनी के बावजूद कांग्रेस विधायक ने की 'भविष्यवाणी'

सिद्धारमैया जाएंगे, डीके शिवकुमार आएंगे? चेतावनी के बावजूद कांग्रेस विधायक ने की 'भविष्यवाणी'

कांग्रेस के मांड्या विधायक रविकुमार गौड़ा के हालिया दावे ने कि सरकार के ढाई साल के कार्यकाल के बाद उपमुख्यमंत्री डी. के. शिवकुमार मुख्यमंत्री बनेंगे, सत्तारूढ़ पार्टी के हलकों में हलचल पैदा कर दी थी।

सिद्धारमैया जाएंगे, डीके शिवकुमार आएंगे? चेतावनी के बावजूद कांग्रेस विधायक ने की 'भविष्यवाणी'
Amit Kumarएजेंसियां,बेंगलुरुSat, 04 Nov 2023 02:19 PM
ऐप पर पढ़ें

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के महासचिव रणदीप सुरजेवाला ने कर्नाटक में कैबिनेट फेरबदल और नेतृत्व परिवर्तन जैसे मुद्दों पर सार्वजनिक टिप्पणी करने के खिलाफ पार्टी विधायकों, नेताओं और मंत्रियों को चेतावनी दी थी। लेकिन अब ऐसा लग रहा है कि उनकी इस चेतावनी का कोई असर नहीं पड़ा है। सुरजेवाला ने बुधवार को कहा था कि पार्टी अनुशासन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। चेतावनी के बमुश्किल 24 घंटे बाद, सिद्धारमैया ने खुद कहा कि वह पूरे पांच साल के लिए मुख्यमंत्री बने रहेंगे। जबकि शुक्रवार को, रामनगर से कांग्रेस विधायक इकबाल हुसैन ने उनका विरोध करते हुए कहा कि उपमुख्यमंत्री और राज्य कांग्रेस अध्यक्ष डीके शिवकुमार डेढ़ साल बाद मुख्यमंत्री बनेंगे।

मई के चुनावों में पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी के बेटे निखिल को हराने वाले हुसैन ने कहा, "केपीसी के अध्यक्ष के रूप में शिवकुमार ने न केवल जमीनी स्तर पर पार्टी का निर्माण किया, बल्कि कार्यकर्ताओं में भी जोश भरा। उन्होंने विधानसभा चुनावों में कांग्रेस की जीत में किसी और से अधिक योगदान दिया। उन्होंने बहुत त्याग किया। इसलिए, यह बिल्कुल स्वाभाविक है कि हम चाहते हैं कि वह सीएम बनें।"

इससे पहले पार्टी और राज्य में सरकार से संबंधित मुद्दों तथा 2024 लोकसभा की तैयारियों के संबंध में एआईसीसी महासचिव (संगठन) केसी वेणुगोपाल, कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डी. के. शिवकुमार और मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के साथ बैठक के बाद सुरजेवाला ने बयानबाजी को लेकर चेतावनी दी थी। सुरजेवाला ने कहा, ‘‘हमने हमारे कुछ मंत्रियों और विधायकों द्वारा दिए गए विभिन्न बयानों के मुद्दे पर संक्षेप में चर्चा की है और मैंने केपीसीसी अध्यक्ष से कहा है कि किसी भी मंत्री, विधायक या पार्टी नेता को पार्टी अनुशासन का उल्लंघन नहीं करना चाहिए, अन्यथा कार्रवाई की जाएगी।’’ यहां प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में ढाई घंटे की लंबी बैठक के बाद उन्होंने कहा कि जो कोई भी ऐसा करता है, वह पार्टी के लिए बहुत बड़ा नुकसान कर रहा है और अगर कोई भी पार्टी लाइन से इतर सार्वजनिक बयान देता है, तो पार्टी को इस बारे में उचित कार्रवाई के बारे में सोचना होगा।

कांग्रेस के मांड्या विधायक रविकुमार गौड़ा के इस हालिया दावे ने कि सरकार के ढाई साल के कार्यकाल के बाद उपमुख्यमंत्री डी. के. शिवकुमार मुख्यमंत्री बनेंगे, सत्तारूढ़ पार्टी के हलकों में हलचल पैदा कर दी थी। कुछ मंत्रियों ने इस बात पर जोर दिया था कि मौजूदा मुख्यमंत्री सिद्धारमैया अपना कार्यकाल पूरा करेंगे और कुछ अन्य लोगों का कहना है कि इस पर निर्णय लेना आलाकमान का काम है। 

इससे पहले कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने बृहस्पतिवार को कहा कि वह पूरे पांच साल तक पद संभालेंगे।  जब उनसे मुख्यमंत्री परिवर्तन के बारे में पार्टी के भीतर से बार-बार भ्रमित करने वाले बयानों के बारे में पूछा गया तो सिद्धरमैया ने कहा, “भ्रमित करने वाला बयान किसने दिया है? अगर कोई बेकार बोलता है तो आप उसे महत्व क्यों देते हो।” यह स्पष्ट करने के लिए पूछे जाने पर कि क्या वह पूरे पांच साल तक सरकार का नेतृत्व करेंगे, उन्होंने कहा, “पांच साल तक हमारी सरकार रहेगी...मैं मुख्यमंत्री हूं, मैं बना रहूंगा।” तीन और उपमुख्यमंत्री बनाए जाने की अटकलों पर उन्होंने कहा, “किसने कहा? यह सब आलाकमान तय करता है। कांग्रेस क्षेत्रीय पार्टी नहीं, राष्ट्रीय पार्टी है। बिना आलाकमान से चर्चा के कुछ भी तय नहीं किया जा सकता। मुख्यमंत्री के रूप में मैं या विधायक सरकार नहीं बदल सकते। हमारे पास आलाकमान है, वो निर्णय लेगा।”

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें