DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हत्यारोपी शिक्षक का सनसनीखेज खुलासा, पुलिस को बताया क्यों की पूरे परिवार की हत्या

दिल्ली महरौली इलाके में पत्नी की बीमारी से एक शख्स इस कदर परेशान था कि शुक्रवार रात उसने पत्नी व तीन बच्चों की चाकू से गला रेत कर निर्मम तरीके से हत्या कर दी। पूरे परिवार का कत्ल करने की दिल दहला देने वाली वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी ने पत्थर काटने की मशीन से खुद के हाथ की नस काटकर खुदकुशी करने भी प्रयास किया। हालांकि वह इसमें कामयाब नहीं हो सका। आरोपी बिहार के पूर्णिया जिले के खजरिया गांव का रहनेवाला है। 

मृतकों में आरोपी की पत्नी 35 वर्षीय अर्चना, 8 वर्षीय रान्या, 6 वर्षीय रौनक और डेढ़ माह का बेटा रानी शामिल है। 42 वर्षीय आरोपी उपेन्द्र शुक्ला को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वारदात की जानकारी शनिवार सुबह उस वक्त मिली जब आरोपी की सास ने उपेन्द्र के कमरे का दरवाजा खटखटाया। कोई आवाज नहीं मिलने पर उन्होंने पड़ोसियों को बुलाया। इसके बाद गेट तोड़ पड़ोसी अंदर गए तो उनके होश उड़ गए। तत्काल पुलिस को वारदात की जानकारी दी गई। पुलिस ने शवों को पोस्टमर्टम के लिए भेज मामले की जांच आरंभ कर दी है।

इलाके के डीसीपी विजय कुमार ने बताया कि उपेन्द्र अपने परिवार के साथ महरौली वार्ड-2 के मकान नम्बर 178 में रहता था। तीन कमरों वाले इस फ्लैट के एक कमरे में उसकी सास और एक कमरे में उसके भाई के दो बच्चे रहते हैं। जबकि एक कमरे को उपेन्द्र अपने परिवार के लिए इस्तेमाल करता था। उपेन्द्र केमिस्ट्री का शिक्षक है। वह बच्चों को होम ट्यूशन देता था। डीसीपी के मुताबिक शनिवार सुबह 7.15 बजे पुलिस को वारदात की सूचना मिली। 

UP: शादी से एक दिन पहले दूल्हे की ताबड़तोड़ गोलियां बरसाकर हत्या

शवों के साथ बैठा था आरोपी
मौके पर पहुंची पुलिस ने देखा कि एक कमरे में फर्श पर अर्चना का शव पड़ा हुआ था और बिस्तर पर तीन बच्चों के शव पड़े हुए थे। चारों शवों के साथ फर्श पर दीवार के सहारे उपेन्द्र खून से लथपथ हालत में बैठे था। उपेन्द्र के पास ही एक पत्थर काटने की मशीन और चाकू पड़ा मिला। दोनों खून से सने हुए थे। पुलिस टीम ने उपेन्द्र को अस्पताल पहुंचाया, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद  उसे गिरफ्तार कर लिया। 

खून से सने दो नोट बरामद 
घटनास्थल से पुलिस ने खून से सने हिन्दी व इंग्लिश में लिखे दो सुसाइड़ नोट भी बरामद किए हैं। दोनों उपेन्द्र ने लिखे है। पुलिस ने दोनों लेटर और चाकू व पत्थर काटने की मशीन कब्जे में लेकर मामले की छानबीन शुरू कर दी है। फिलहाल पुलिस हादसे के बारे में उपेन्द्र की सास ललिता (65), उपेन्द्र की भतीजी अनमोल (13) और उपेन्द्र से पूछताछ कर रही है।

ऐसे दिया वारदात को अंजाम
उपेन्द्र ने पूछताछ में यह खुलासा किया कि शुक्रवार रात को वह पूरे परिवार के साथ बाहर से खाना लेकर आया था। सभी खाना खाने के बाद अपने अपने कमरे में सोने चले गए। देर रात करीब 1.30 बजे जब सब सो गए तो उसने घर में रखे चाकू से अपनी पत्नी का गला काट दिया। जिससे पूरे कमरे में खून फैल गया। उसके बाद आरोपी ने रौनक, रान्या और फिर रानी का गला चाकू से काट कर उनकी भी हत्या कर दी। हत्या के बाद उसने अपना नस काटने की कोशिश की तो वह घायल होकर बेसूध हो गया। करीब 3 बजे उसे होश आया तो वह शवों के साथ ही बैठ गया। पूछताछ में उसने बताया है कि वह डिप्रेशन में था और अपनी पत्नी की बीमारी को लेकर परेशन था।  

किसको कब मारा
1-सबसे पहले पत्नी को मारा
2-फिर छह साल के बेटे रौनक को मौत के घाट उतारा
3- इसके बाद 8 साल की बेटी राम्या को मारा
4- आखिरी में डेढ़ महीने के बेटे को मारा  
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:delhi murderer teacher sensational disclosure told the police why he was murdered whole family